Posts

Showing posts from December 7, 2017

बदरवास में मिनि स्टेडियम के लिए आधिकारिक प्रेस रिलीज

Image
भोपाल। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने शिवपुरी जिले के भ्रमण के दौरान आज सुबह बदरवास से भोपाल रवाना होने के पहले हेलीपेड पर उपस्थित लोगों की समस्याओं को सुना और उनके निराकरण के कलेक्टर को निर्देश दिए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने हेलीपेड पर उपस्थित प्रत्येक व्यक्ति से चर्चा की और उनकी समस्याओं को सुना। इस दौरान उन्होंने कहा कि लोगों की समस्याओं के निराकरण हेतु बदरवास में समस्या निवारण शिविर आयोजित किया जाएगा। 
श्री चौहान ने स्थानीय युवाओं की मांग पर बदरवास में मिनी स्टेडियम बनाने के भी निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने शिवनारायण प्रजापति के पिता रामनारायण प्रजापति के हृदय का उपचार करवाने के निर्देश दिए। हेलीपेड पर जिले के प्रभारी मंत्री श्री रूस्तम सिंह, सहकारिता राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री विश्वास सारंग, स्थानीय वरिष्ठ जनप्रतिनिधि और वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी उपस्थित थे।

शिवपुरी को सूखाराहत के लिए मिले 64 करोड़

Image
भोपाल। सूखा पीड़ित शिवपुरी जिले में किसानों को राहत प्रदान करने के लिए मप्र शासन ने करीब 65 लाख रुपए आवंटित कर दिए हैं। यह आवंटन कलेक्टर शिवपुरी की मांग पर किया गया है। इस राशि से सूखा पीड़ित किसानों को राहत पहुंचाई जानी है। राज्य शासन द्वारा प्राकृतिक आपदा से प्रभावित 11 जिलों को 462 करोड़ 96 लाख रुपये आवंटित किये गए हैं। आवंटित राशि का उपयोग आरबीसी 6-4 के निर्धारित मापदण्डों के अनुसार करने के निर्देश दिये गए हैं। यह राशि कलेक्टरों द्वारा की गई माँग के आधार पर जारी की गई है।
जारी आदेशानुसार जिला छतरपुर को 6878 लाख रुपये, भिण्ड को 211 लाख, सीधी को 1318 लाख, ग्वालियर को 228 लाख, टीकमगढ़ को 7334 लाख, सागर को 8116 लाख, दमोह को 5655 लाख, श्योपुर को 3602 लाख, अशोकनगर को 6246 लाख, मुरैना को 226 लाख और शिवपुरी को 6482 लाख रुपये आवंटित किये गए हैं।

सीएम ने आधीरात को कलेक्टर/एसपी से कहा: अब मुझे काई शिकायत नहीं चाहिए

Image
भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अब कोलारस उपचुनाव की तैयारियों में जुट गए हैं। उन्होंने आधीरात को शिवपुरी कलेक्टर एवं एसपी की मीटिंग ली और स्पष्ट कर दिया कि अब उन्हे शिवपुरी से कोई शिकायत, कोई विवाद नहीं चाहिए। चुनाव सम्पन्न होने तक जिले भर में शांति रहनी चाहिए। बता दें कि सीएम शिवराज सिंह की बदरवास आमसभा में पुलिस की लापरवाही के कारण नशे में धुत 2 लोग वीआईपी गेट से घुस आए थे। जिसे लेकर काफी तमाशा हुआ। 
सीएम शिवराज सिंह चौहान ने बदरवास में नाइटस्टे किया। उन्होंने कलेक्टर से कहा कि जनसमस्या निवारण शिविर लगाकर लोगों की समस्याएं निराकृत कराएं। बता दें कि सीएम की सभा में भीड़ और लोगों के हाथों में आवेदन देखकर सीएम ने बदरवास में ही नाइटस्टे करने का फैसला किया था। वो आसपास के गांव में गए और चौपाल भी लगाई। फिर जिले और तहसील स्तर के अफसरों की बैठक सीएम ने ली। 
इस दौरान उन्होंने 9 दिसम्बर को यहां होने वाले सहरिया जनजातीय राज्य स्तरीय सम्मेलन की भव्य तैयारियों के लिए अफसरों को निर्देशित किया। बता दें कि शिवपुरी में सहरिया क्रांति नाम का एक संगठन सक्रिय है। पिछले दिनों इस संगठन के संयोजक और…

तहसील में नियम खुटी पर, अन्नदाता के नही हो रहे काम

Image
पोहरी। पोहरी तहसील में इन दिनों जहां तहां किसान एवं आम इंसान अपने काम कराने के लिए भटकते नजर आ रहे हैं, तहसील कार्यालय पोहरी में न तो सीमांकन के प्रकरणों का निराकरण किया जा रहा है और न ही नकल निकवाने के लिए अनुमोदन किए जा रहे हैं। बीपीएल राशन कार्ड हेतु भी एक साल तक हितग्राहियों को पोहरी तहसील के चक्कर लगवाए जा रहे हैं।
पोहरी तहसील में दो साल से एक व्यक्ति का सीमांकन का आदेश होने के बाद भी आज दिनांक तक सीमांकन नहीं किया गया। मचाखुर्द के आदिवासी समुदाय के लोगों को भी पात्रता की श्रेणी में पाये जाने के बाद भी बीपीएल राशनकार्ड नहीं बनाए जा रहे हैं। इसी तरह किसानों को आवेदन के पश्चात अनुमोदन कराने के लिए दो तीन हफ्तों तक चक्कर लगाने पड़ रहे हैं। किसान खेती का काम छोडक़र अनुमोदन कराने के लिए नायब तहसीलदार कार्यालय के चक्कर लगाने को मजबूर हो रहे हैं।
प्रकरण क्रमांक 1-  प्रेमचंद पुत्र काशीराम निवासी पोहरी पिछले दो वर्ष से सीमांकन के लिए चक्कर लगाने को मजबूर है, तहसीलदार पोहरी द्वारा काफी समय चक्कर लगवाने के बाद मई 2016 में सीमांकन हेतु आदेशतो कर दिया परंतु आज दिनांक तक आदेश पर अमल नहीं हुआ और …

विवाद के चलते महिला से की मारपीट

Image
शिवपुरी। जिले के भौंती थाना क्षेत्र के तहत आने वाले ग्राम पुनावली में विवाद के चलते तीन युवकों ने महिला की रास्ता रोककर मारपीट कर दी। पुलिस ने मामले में महिला की शिकायत पर केस दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरु कर दी है। सीमा पत्नी पवन वंशकार 30 वर्ष निवासी ग्राम पुनावली ने पुलिस को शिकायत में बताया कि मंगलवार की रात करीब 9 बजे वह अपने घर पुनावली जा रही थी 
तभी रास्ते में शिवचरण परिहार, मोहरसिंह परिहार निवासी पुनावली व वासुदेव शर्मा निवासी भूवरा ने उसका रास्ता रोक लिया। जब महिला ने रास्ता रोके जाने का कारण पूछा तो युवक उसके साथ गाली-गलौंज करने लगे ओर उसकी मारपीट कर दी। जाते-जाते युवक महिला को जान से मारने की धमकी दे गए। 
महिला ने घर आकर सारे घटनाक्रम के बारे में परिजनों को बताया जिसके बाद महिला थाने आई और पुलिस को शिकायत दर्ज करवाई। घटना के बाद सभी आरोपी फरार हो गए। मामले में पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही है।

रंजिश के चलते युवक की मारपीट

Image
शिवपुरी। खनियांधाना थाना क्षेत्र के तहत आने वाले ग्राम पिपरई में रंजिश के चलते एक युवक की 6 लोगों ने मिलकर जमकर मारपीट कर दी। घटना में युवक को चोटें आई। मामले में पुलिस ने केस दर्ज कर आरोपियों के तलाश शुरु कर दी है। शीलकुमार यादव पुत्र लाखनसिंह यादव 20 वर्ष निवासी पिपरई ने पुलिस को शिकायत में बताया कि वह 5 दिसंबर को अपने खेत पर काम कर घर जा रहा था 
उसी दौरान गांव के ही रहने वाले कृष्णपाल, हरपाल, वीरभान, तेजपाल, यशपाल, श्रीपत यादव आ गए और उन्होंने रास्ता रोक लिया। चूंकि इन सभी लोगों की युवक के साथ रंजिश चली आ रही है जिस पर उक्त युवकों ने शीलकुमार के साथ गाली-गलौंज करना शुरु कर दी। 
जिस पर शीलकुमार ने उन्हें गाली देने से मना किया तो उसकी सभी ने मिलकर मारपीट कर दी व जान से मारने की धमकी देकर वहां से भाग गए। घायल हो इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करवाया गया एवं पुलिस ने मामले में विभिन्न धाराओं में केस दर्ज कर लिया है।

डेली ट्रांसपोर्ट बनी स्लीपर कोच, अब बस नही मालगाडी कहिए...........

Image
शिवपुरी। आपने डेली ट्रांसपोर्टो का नाम सुना होगा। डेली ट्रांसपोर्ट शिवपुरी में बहुत है और यह महानगरो से शिवपुरी के व्यापारियो का समान लाने का काम करती है। और इन्है डेली ट्रांसपोर्ट इस कारण कहा जाता होगा कि यह प्रतिदिन व्यापारियो का समान लाती है। लेकिन अब शिवपुरी की बसे भी डेली ट्रांसपोर्ट का काम रही है, खासकर इंदौर से शिवपुरी आने वाली बसें...........
जानकारी के अनुसार शिवपुरी से सैंकड़ों की संख्या में इंदौर, भोपाल, जयपुर, उदयपुर, दिल्ली, कानपुर, कोटा आदि शहरोंं के लिए स्लीपर कोच बसें संचालित होती है। इन बसों में सवारियों से अधिक मात्रा में लगेज भरा जाता है। बसों में यह लगेज न केवल अंदर बल्कि बसों की छत पर भी लाद दिया जाता है जिससे इन बसों की ऊंचाई और भी अधिक हो जाती है। 
खासबात यह है कि उक्त बसें तेज गति में चलती है और ऊंचाई अधिक होने के कारण कभी भी हादसे का शिकार हो सकती है। इस प्रकार बस संचालकों द्वारा अपने निजी स्वार्थ के लिए न के यात्रियों के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है, बल्कि शासन को भी लाखों रुपए के टैक्स का चूना लगाया जा रहा है। सूत्रों की मानें तो बसों में रुपए लेकर बिना सवारी …