Posts

Showing posts from September 23, 2015

दसलक्षण पर्व: संयम के बिना मनुष्य जीवन बिना ब्रेक की गाड़ी के समान , मुनिश्री

Image
शिवपुरी। मनुष्य का जीवन विना संयम के ऐसे ही है जैसे बिना ब्रेक के गाड़ी। गाड़ी में ब्रेक न हो तो उसमें बैठने बाले का जीवन खतरे में पड़ जाता है, उसी प्रकार जीवन में इन्द्रिय संयम न हो तो भौतिक जीवन के साथ आध्यात्म जीवन भी नष्ट हो जाता है।
देव, नरक, तिर्यन्च आदि योनियों में संयम धारण नहीं किया जा सकता। केवल मनुष्य पर्याय ही ऐसी है जहाँ संयम को धारण किया जा सकता है। अत: जीवन के उत्थान के लिये आज कुछ न कुछ संयम अवश्य धारण करें।
तभी हमारा जीवन सफल हो सकेगा। उक्त उद्गार स्थानिय महावीर जिनालय में उत्तम मार्दव दसलक्षण धर्म के अवसर पर वहाँ चार्तुमास कर रहे पूज्य आचार्य श्री 108 विद्यासागर जी महाराज के परम शिष्य पूज्य मुनि श्री अभय सागर जी महाराज, पूज्य मुनिश्री प्रभातसागर जी महाराज एवं पूज्य मुनि श्री पूज्यसागर जी महाराज ने दिये।
पूज्य मुनि श्री प्रभातसागर जी महाराज ने अपने प्रवचनों में कहा कि- जीवन में थोड़ा सा भी संयम पापों को मिटाने वाला होता है। उत्तम संयम जीवन में नियंत्रक का कार्य करता है।
जैसे नदी के उपर बाँध बना दिया जाये फिर उस बाँध के पानी का उपयोग बिजली बनाने आदि में किया जा सकता है…

फिजीकल क्षेत्र में वृद्धा की संदिग्ध मौत

Image
शिवपुरी। अभी अभी खबर आ रही है कि फिजीकल चौकी क्षेत्र में चौकी के पास ही रहने वाली एक वृद्ध को खाना देने बहू उसके घर गई तो वह मृत मिली है मौके पर पुलिस अभी जांच पड़ताल कर रही है।
जानकारी के अनुसार फिजीकल चौकी के पास भईदन खॉन पत्नि सत्तार खान उम्र 80 वर्ष को उसकी बहू रोजना की तरह दोपहर 12:30 बजे खाना देने उसके घर गई। घर के अंदर बहू ने जाकर देखा तो सास मरी हुई मिली।
बताया गया है कि उक्त वृद्ध महिला घर पर अकेली रहती है और घरों में साफ-सफाई का काम करती थी और उसके साथ नही रहते थे। कल शाम तक यह वृद्ध महिला स्वस्थय बताई जा रही थी।
जानकारी यह भी मिल रही है कि इस वृद्ध महिला का हाथ नीला पड़ रहा था और उसके पैर भी अकडे हुए थे। मौके पर फिजीकल चौकी प्रभारी जयसिंह कुशवाह अपनी टीम के साथ पहुंच गए थे।
इस महिला की मौत के कारणो से हुई है यह जांच के बाद ही पता चल पाएगा। प्रथम दृष्टया यह मामला उलझा दिख रहा है।