Posts

Showing posts from December 5, 2015

फर्जी निकला निलबंन आदेश, बैरगं लौटे दीपक पाण्डेय

Image
शिवपुरी। डीईओ और डीसीपी के निलबंन के आदेश के बाद डीपीसी का निलबंन होने और रूकने की अफवाहों का बाजार गर्म है। शिवपुरी कलेक्ट्रेट के गलियारो से यह खबर भी आ रही है इस निलबंन के आदेश को विसगंति पूर्वक माना गया है और ग्वालियर से शिवपुरी चार्ज लेने आए दीपक पाण्डेंय का ग्वालियर वापस बैरगं लौटना पड़ा। 
जानकारी यह भी आ रही है कि डीपीसी ने यह आदेश इस कारण नही माना कि इस आदेश पर जावक क्रंमाक नही है। इस कारण वे  इस आदेश को विसगंतिपूर्वक मान रहे है और अपना निलबंन नही मान रहे है और रोज ऑफिस जा रहे है। 
इधर ग्वालियर से डीईओ और डीपीसी का प्रभार लेने शिवपुरी आए ग्वालियर उप संचालक के रूप में पदस्थ दीपक पाण्डे ने शिवपुरी समाचार डाट कॉम से चर्चा करते हुए कहा कि मैने डीईओ और डीपीसी शिवपुरी का चार्ज ले लिया है। और में विधिवत रूप से सोमवार से कार्यालीन कार्य करूंगा।

नही सुरक्षित भगवान: अब शहर में शिवलिंग खण्डित

Image
शिवपुरी । आज सुबह फतेहपुर रोड पर स्थित सीएमएचओ कार्यालय के पास स्थित एएसएफ पुलिस के प्राचीन शिवमंदिर में असामाजिक तत्वों ने शिवलिंग को खण्डित कर दिया। 
सूचना पाते ही एसपी मो. युसुफ कुर्रेशी सहित भारी पुलिस बल मौके पर पहुंचा जहां पुलिस अधीक्षक ने स्थिति का जायजा लिया और कोतवाली टीआई संजय मिश्रा को निर्देशित किया कि जल्द ही वह आसपास के नशेडिय़ों को पकड़़ें जो इस तरह की घटनाएं कारित कर रहे हैं। 
पुलिस अधीक्षक ने वहां मौजूद लोगों से अपील की कि वह धैर्य बनाए रखें। जल्द ही वह ऐसे असामाजिक तत्वों को पकड़ लेंगे जिन्होंने इस तरह का कृत्य किया है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार फतेहपुर पर स्थित शिवमंदिर पर बीती रात्रि कुछ असामाजिक तत्वों ने तोडफ़ोड़ कर दी। इस घटना में वहां स्थापित शिवलिंग खण्डित हो गई। आज सुबह जब भक्त वहां पूजा अर्चना करने के लिए पहुंचे तो शिवलिंग के साथ शेषनाग खण्डित अवस्था में थे। 
वहीं मंदिर में लगे घंटे भी गायब थे जिसकी सूचना तुरंत ही पुलिस को दी गई। विदित हो कि करैरा में इस तरह की घटना अभी कुछ दिनों पूर्व ही घटित हुई है। उस दौरान करैरा में असामाजिक तत्वों ने सा प्रदायिक माहौल बिग…

आशिकी पड़ी महंगी,घुटनो के बल बैठकर रगडऩी पड़ी नाक

Image
शिवपुरी। शहर के कमलागंज क्षेत्र में स्थित शासकीय छात्रावास में रहकर पढ़ाई करने वाली छात्रा को नवाब साहब रोड़ निवासी एक युवक पिछले कुछ माह से फोन लगाकर परेशान कर रहा था। उसने निर्भया से शिकायत की तो उसने कहा सिम बदल लो। लेकिन शोर्या दल की मेहनत के कारण आज उक्त आशिक को नाक  रगडऩी पड़ी
जानकारी के अनुसार शासकीय छात्रावास की में रहकर अपनी पढाई जारी करने वाली छात्रा ट्यूशन पढऩे जाती तो यह आशिक उसका रास्ता भी रोक देता था। इस बात से तंग आकर छात्रा को पुलिस से मदद न मिलती देख छात्रा ने शौर्या वूमेन द्वारा छात्रावास के सामने लगाई गई शिकायत पेटी में एक पत्र के माध्यम से अपनी पीढ़ा  लिख कर डाल दी थी। 
शौर्या वूमेन एमजेआरएस द्वारा छात्रावास में स्थापित की गई पत्र पेटी में जब शौर्या संचालिका द्वारा खोला गया तो उसमें एक शिकायती पत्र  मिला जिसको उन्होंने बारीकी से पढ़कर समझा और छात्रावास में रहने वाली शिकायत कर्ता छात्रा से संपर्क कर पूरे घटनाक्रम ली। 
 जानकारी बारीकी से लेकर रंजीता देश पाण्डेय ने इस बात से पुलिस अधीक्षक को अवगत कराया जिस पर पुलिस अधीक्षक श्री कुर्रेशी ने तत्काल कार्यवाही करते हुए सा…

शिवपुरी मंडल अध्यक्ष चुनाव में से यशोधरा खेमा बहार

Image
शिवपुरी। आज जिला शिवपरी के सभी 15 मंडल अध्यक्ष चुनाव होना है आज भाजपा के जिला कार्यालय पर निर्वाचन प्रक्रिया चल रही है। भाजपा कार्यालय से अभी एक बडी खबर बाहर आई है जिसके मुताबिक शिवपुरी मंडल अध्यक्ष की दौड से यशोधरा खेमा बहार हो गया है। 
जानकारी के अनुसार आज शहर के 39 वार्ड अध्यक्षो के चुनाव भी स पन्न हुए उसमे ंसे 33 वार्ड अध्यक्ष चुनाव के संपन्न हो गए और वाकी 6 वार्ड अध्यक्षो के चुनाव निरस्त हो गए  है। 
जैसा की बताया जा रहा है कि इस निर्वाचन प्रक्रिया के दौरान वार्ड अध्यक्षो से अपने पसंदीदा नेताओ के 3-3 नाम देने है। लेकिन अभी चुने गए वार्ड अध्यक्षो में से 18 वार्ड अध्यक्षो ने  एक शपत पत्र बनाकर नरेन्द्र सिंह खेमे के भाजपा के युवा नेता गगन खटीक,गणेश गुप्ता और प्रभात मिश्रा के नाम दिए है। 
यशोधरा खेमे से भानू दुबे और हरिओम राठौर के नाम सामने आए है। लेकिन 18 अध्यक्षो ने नरेन्द्र सिंह खेमा के नाम दिए है। अगर निर्वाचन प्रक्रिया यह चुनाव संपन्न होता है और ऊपर से किसी भी नेता को थोपा नही जाता तो यह तय है कि शिवपुरी मंडल अध्यक्ष चुनाव में यशोधरा खेमा बहा हो गया है। 
बताया यह भी गया है कि मंड…

पर्यटक मंत्री राजे के क्षेत्र में होगा टूरिज्म कॉलेज बंद...

Image
शिवपुरी तकनीकी शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान आईटीआई में तत्कालीन पर्यटन मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया के प्रयासों से वर्ष 2011 में शुरू किए गए टूरिज्म कोर्स से महज 4 सालों में ही विद्यार्थियों का मोहभंग हो गया है।
इस कोर्स के लिए नए संसाधन व भवन उपलब्ध होने के बावजूद इस साल अब तक इस पाठ्यक्रम में एक भी छात्र ने दाखिला नहीं लिया है आईटीआई प्रबंधन ने इन हालातों से आला अधिकारियों को भी अवगत करा दिया है यह स्थिति तब है, जब प्रदेश में एकमात्र शिवपुरी आईटीआई में ही उक्त कोर्स संचालित है।
9 फरवरी 2011 को आईटीआई परिसर में टूरिज्म पाठयक्रम के लिए पृथक से भवन स्वीकृत होने के बाद शिलान्यास किया गया और 5 अगस्त 2012 को लाखों से निर्मित इस भवन का लोकार्पण किया गया।
शुरूआती वर्षों में यहां काफी सं या में छात्रों ने प्रवेश लेने में रुचि दिखाई भवन के अलावा लाखों रुपए के संसाधन भी इस कोर्स के लिए उपलब्ध कराए गएए लेकिन अब हालात यह हैं कि इस साल एक भी छात्र के प्रवेश न लेने से भवन पर ताले लटके हुए है। 
शिवपुरी आईटीआई में टूरिज्म पाठयक्रम के लिए पृथक से 8 शिक्षकों की तैनाती की गई है, लेकिन इस बार एक भी छात्र …

अब कागजो में दर्ज नही होगें, एफआईआर और अदम चैक

Image
शिवपुरी। जिले की पुलिस थानो में एफआईआर हो या आदमचैक अब वह कागजो में नही होगा। इसके लिए अब सभी थानो मेें क प्यूटर आ गए है। बतया गया है कि सीसीटीएनएस क्राईम एंड क्रिमिनल ट्रेकिंग नेटवर्क एंड सिस्टम को चालू करने में युवा पुलिसकर्मीयों ने थाने के की-बोर्ड थाम लिए है।
जानकारी यह भी मिल रही है कि थानो में युवाओ के साथ-साथ थाने के मुंशी बैठकर काम करा रहे है। कुछ पुलिस थानो में नेटवर्क समस्या आ रही है,तो वहां आफलाईन काम किया जाता है जैसे ही नेटवर्क आता है रिकार्ड ऑनलाईन हो जाता है। 
कुछ पुलिस थानो में  ट्रेंड स्टॉफ न होने के कारण प्राईवेट कंपनी के कर्मचारी काम कर रहे है। हालाकि पुलिस अफसरो को दावा है कि 10 दिन केे अंदर सीसीटीएनएस पर काम करने के लिए सभी थानो का स्टॉफ तैयार हो जाऐगा। इसके लिए चयनित स्टाफ को ट्रेनिंग दी जा रही है।  
बताया जा रहा है कि जिले के गोपालपुर एंव बदरवास में एससीएल कंपनी के दो कर्मचारियों को हैडहोल्डर के रूप में नियुक्त किया गया है। जो पुलिस के रिकार्ड को अपडेट कर रहे है। चूकि पुलिस को कंप्यूटराईज्ड करने में हार्डवेयर,सॉ टवेयर व मास्टर ट्रेनर एचसीएल कंपनी ने दिए है। 
वहा…