Ad Code

प्रियदर्शनी सिंधिया का शिवपुरी दौरा सेट, क्षेत्र की महिलाओ से सीधे होंगी रूबरू | Shivpuri News

शिवपुरी। शिवपुरी-गुना लोकसभा सीट से कयास लगाए जा रहे है कि इस बार इस सीट से सांसद ज्यातिरादित्य सिंधिया की धर्मपत्नि प्रियदर्शनी सिंधिया चुनाव लड सकती है,कांग्रेस की बैठक में यह मांग भी उठी थी। इन्ही सभी कयासो के बीच से यह खबर भी आ गई कि प्रियदर्शनी सिंधिया का शिवपुरी दौरा सेट हो चुका हैं,वे कांग्रेस के महिला सम्मेलन में भाग लेंगी। अभी तक प्रियदर्शनी सिंधिया सिर्फ अपने पति के प्रचार में आती थी। अभी तक उन्होने ऐसे दौरे नही किए।

प्रियदर्शनी राजे सिंधिया पहली बार क्षेत्र में महिलाओं से सीधी बात करेंगी। 19 फरवरी को वह शिवपुरी के उत्तर और दक्षिण क्षेत्र में आयोजित महिलाओं के सम्मेलनों में भागीदारी करेंगी। यह पहला माैका हाेगा, जब वे चुनाव के अलावा किसी कार्यक्रम में शामिल होंगी। 

मालूम हाे कि चार दिन पहले ही जिला कांग्रेस की बैठक में सर्वसम्मति से उन्हें शिवपुरी-गुना लाेकसभा सीट से चुनाव लड़ाने का प्रस्ताव पास किया गया था। बैठकों में कार्यकर्ताओं ने उन्हें लोकसभा चुनाव लड़ाने की बात कही थी। इसलिए यह दौरा महत्वपूर्ण माना जा रहा है। उनके इस दौरे से यहां से उनके चुनाव लड़ने की चर्चाएं तेज हो गई हैं। संगठन में भी इस बात को लेकर सुगबुगाहट है।

अब शिवपुरी की राजनीति में यह हवा चल रही है कि वे शिवपुरी की सीट अवश्य चुनाव लड सकती है। कांग्रेस एक—एक सीट के जीत के गणित पर काम कर रही है। यह सीट राजघराने की सबसे सुरक्षित मानी जाती हैं। इस सीट से उनके पति ने राजनीति की शुरूवात की हैं। इससे पूर्व इस सीट पर सिंधिया राजघराना 14 बार चुनाव जीत चुका हैं।

सांसद ज्योतिरादित्य ग्वालियर से चुनाव लड सकते हैं,और वे मप्र में कांग्रेस के ऐसे चेहरे है जो पूरे मप्र से कही से भी चुनाव लड सकते है और वे चुनाव जीत सकते हैं। अब देखना यह है कि इस दौरे के बाद राजनीति की हवाए किस और बहती है।

कांग्रेस के प्रदेश महासचिव हरवीर सिंह रघुवंशी ने बताया कि प्रियदर्शनी राजे सिंधिया के शिवपुरी-गुना लोकसभा क्षेत्र में कार्यक्रम तय हुए हैं। 19 फरवरी को पहला कार्यक्रम शिवपुरी शहर के कांग्रेस संगठन के हिसाब से दो भाग उत्तर और दक्षिण में महिला सशक्तिकरण के लिए आयोजित हो रहे महिला सम्मेलन में शामिल हाेंगी। अब तक वे केवल लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान ही क्षेत्र में आती थीं लेकिन पहली बार वह लोकसभा चुनाव से पहले किसी कार्यक्रम में आ रही हैं।