ads

Shivpuri Samachar

Bhopal Samachar

shivpurisamachar.com

ads

प्रभारी मंत्री रूस्तम सिंह ने किया रजौरा में डेढ करोड़ की लागत से बन रहे विद्युत उपकेन्द्र का भूमिपूजन

शिवपुरी। लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री श्री रूस्तम सिंह ने आज पोहरी विकासखण्ड के ग्राम पंचायत राजौरा (देवरीकलां) में 1 करोड़ 53 लाख की लागत से निर्मित होने वाले 33/11के.व्ही. उपकेन्द्र रजौरा का भूमिपूजन किया। इस मौके पर पोहरी विधानसभा क्षेत्र के विधायक प्रहलाद भारती, मछुआ कल्याण बोर्ड के उपाध्यक्ष राजू बाथम, पूर्व विधायक वीरेन्द्र रघुवंशी, कलेक्टर तरूण राठी, पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार पाण्डे, मध्यप्रदेश विद्युत वितरण कंपनी के महाप्रबंधक आर.के.अग्रवाल, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी राजेश जैन, अनुविभागीय अधिकारी पोहरी मुकेश सिंह सहित जनप्रतिनिधि एवं ग्रामीणजन आदि उपस्थित थे।
रूस्तम सिंह ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि विद्युत उपकेन्द्र के बनने से गांव में बोल्टेज की समस्या का निदान होगा। श्री सिंह ने कहा कि प्रदेश में 2003 के बाद सभी क्षेत्रों में चहुमुखी विकास हुआ है और प्रदेश में परिवर्तन देखने को मिला है। उन्होनें कहा कि 2003 में प्रदेश में 3 हजार मेगावॉट बिजली का उत्पादन होता था, लेकिन आज प्रदेश में 19 हजार मेगावॉट विद्युत का उत्पादन हो रहा है। उन्होंने कहा कि 2003 में किसानों को 16 प्रतिशत ब्याज पर ऋण दिया जाता था। जबकि राज्य सरकार आज किसानों को जीरो प्रतिशत ब्याज पर ऋण प्रदाय कर रही है। ऐसे किसान जिनके द्वारा 1 लाख का ऋण लिया है, उन्हें 90 हजार जमा करने पर 10 हजार रूपए की राशि की छूट भी दी है, ऐसा विश्व में कहीं भी नहीं हुआ। 

रूस्तम सिंह ने कहा कि राज्य सरकार की किसान हितैषी योजनाओं एवं किसानों की मेहनत का परिणाम है कि प्रदेश को गेहूं उत्पादन के क्षेत्र में लगातार 5 बार कृषि कमर्ण पुरस्कार प्राप्त हुआ है। ग्रामीण क्षेत्रों में फीडर सेपरेशन के माध्यम से सिंचाई हेतु अलग एवं घरेलू उपयोग हेतु 24 घण्टे बिजली दी जा रही है। श्री रूस्तम सिंह ने क्षेत्रिय विधायक श्री प्रहलाद भारती द्वारा पोहरी विधानसभा क्षेत्र में किए गए कार्यों की सराहना करते हुए कहा कि इनके द्वारा सभी क्षेत्रों में ऐतिहासिक कार्य किए गए है। उन्होंने इस दौरान कहा कि पोहरी एवं बैराड़ उपार्जन केन्द्रों पर गड़बड़ी की शिकायत मिलने पर व्यवस्था बदलने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि उपार्जन केन्द्रों पर किसानों को परेशान करने वालों को बक्शा नहीं जाएगा।

श्री सिंह ने कहा कि प्रदेश में पहली बार मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने तेदुपत्ता संग्राहकों एवं लघु वनोपज संग्राहकों की चिंता कर अनको योजनाए शुरू की है। चरण पादुका योजना के तहत तेदुपत्ता संग्राहकों को जूता-चप्पल, पानी का थरमस एवं महिलाओं को साड़ी प्रदाय की जा रही है। 20 मई को पोहरी में मुख्यमंत्री श्री चौहान शिवपुरी एवं श्योपुर जिले के तेदुपत्ता संग्राहकों एवं असंगठित क्षेत्र के पंजीकृत श्रमिकों को लाभांवित भी करेंगे। कार्यक्रम को विधायक श्री प्रहलाद भारती ने संबोधित करते हुए कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने प्रधानमंत्री ग्राम सडक़ योजना के माध्यम से गांव-गांव में सडक़ों का जाल बिछाया, वहीं किसान क्रेडिट योजना शुरू की गई। 

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में आज प्रदेश बीमारू राज्य की श्रेणी से निकलकर विकसित राज्य की श्रेणी में आ गया है। उन्होंने क्षेत्र में किए गए विकास कार्यों पर भी प्रकाश डाला। कार्यक्रम के शुरू में मध्यप्रदेश विद्युत वितरण कंपनी के उपमहाप्रबंधक राहुल साहू ने विद्युत उपकेन्द्र के बारे मे विस्तार से जानकारी देते हुए बताया कि इस केन्द्र के बनने से 15 गांव में बोल्टेज की समस्या का निदान होगा। यह विद्युत उपकेन्द्र 3 माह के अंदर पूर्ण हो जाएगा। सौभाग्य योजना के तहत प्रत्येक घरों में विद्युत कनेक्शन भी प्रदाय किए जाएगे। 
Share on Google Plus

About NEWS ROOM

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.