ग्रामीण क्षेत्रों के डाकघर होंगे हाईटेक, दर्पण प्रोजेक्ट का हुआ शुभारंभ

शिवपुरी। वित्तीय समावेशन प्रणाली को सरलीकृत बनाए जाने की दिशा में डाक विभाग द्वारा लागू किए गए दर्पण प्रोजेक्ट(डिजिटल एडवांसमेंट ऑफ रूरल पोस्ट ऑफिस फॉर ए न्यू इंडिया) का शुभारंभ स्थानीय मानस भवन में हुआ। सहायक निदेशक इंदौर आरएस कौशल एवं अधीक्षक डाकघर गुना बीएस तोमर द्वारा ग्रामीण क्षेत्र में कार्यरत शाखा डाकपाल को अत्याधुनिक हैंड हेनडल्ड डिवाइसेज प्रदान कर इस प्रोजेक्ट का शुभारंभ किया। दर्पण प्रोजेक्ट के अंतर्गत शिवपुरी जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में कार्यरत सभी डाकघर आधुनिक तकनीकी संपन्न् हो जाएंगे और देश के विभिन्न् डाकघरों से कोर बैंकिंग सिस्टम से जुड़ जाएंगे डाकघरों के इस तरह आधुनिक हो जाने से ग्रामीण क्षेत्र के उपभोक्ताओं को मिलने वाली सुविधाएं सरलीकृत हो जाएगी। 

सहायक अधीक्षक शिवपुरी व्हीपी राठौड़ ने बताया कि इस योजना से भारत सरकार के वित्तीय समावेशन के लक्ष्य को आसानी से एक विस्तृत रूप दिया जाएगा, आधुनिक तकनीकी संपन्न् होने के कारण अब डाकघर के उपभोक्ता विशेष रूप से ग्रामीण अंचल के उपभोक्ताओं को शहर में या अधिक दूरी तक बैंकिंग के लिए परेशान नहीं होना पड़ेगा, अब उनके गांव में ही उनको आधुनिक बैंकिंग सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी। स्थानीय मानस भवन में डाक विभाग द्वारा व्यवसाय विकास बैठक एवं दर्पण प्रोजेक्ट शुभारंभ का आयोजन किया, जिसमें शिवपुरी जिले के सभी कर्मचारी अधिकारी उपस्थित हुए। 

उत्कृष्ट कर्मचारियों को किया सम्मानित
दर्पण प्रोजेक्ट के तहत उत्कृष्ट कार्य करने वाले कर्मचारियों को अतिथियों द्वारा सम्मानित किया गया इस अवसर पर विभाग से सेवानिवृत्त होने वाले पीएस राठौर पोस्ट मास्टर एवं चंदन कुशवाह को भी अतिथियों द्वारा सम्मानित किया गया। इस अवसर पर टीएस भील, रविन्द्र भार्गव, एस के ओझा, राजकुमार शिवहरे, दुर्गेश रघुवंशी, सुनील उपाध्याय, बीएस आर्य, एनके शर्मा, एमएल मोदी, निकिता, वंदना, मनु शर्मा इत्यादि सभी कर्मचारी उपस्थित रहे।
Share on Google Plus

About Yuva Bhaskar

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.

0 comments:

-----------

analytics