आदि शंकराचार्य की प्रतिमा हेतु धातु संग्रह एव जन जागरण एकात्म यात्रा पोहरी पुहंची

पोहरी। जिले के पोहरी नगर में आज संत आदि शंकराचार्य की धातु से 108 फिट ऊची प्रतिमा की लिया मध्यप्रदेश के हर गांव व पंचायत से मिट्टी व धातु को इकट्ठा किया जा रहा है इस लिया आज एकात्म यात्रा पोहरी नगर की सीमा ककरा में प्रवेश किया  इस एकात्म यात्रा के स्वागत की तैयारी प्रशासन द्वारा कर लिया गयी है एकात्म यात्रा का स्वागत ककरा में हिन्दू संघटन सहित ग्रामीणों ने किया।

यहां जन जागरण एकात्म यात्रा पोहरी नगर में भम्रण करने के बाद कॉलेज मैदान में आदि शंकराचार्य की बनने वाली प्रतिमा के लिए सभी 90  पंचायतों से 90 धातु के कलश व मिठ्ठी एकत्रित की मध्य प्रदेश के सभी गाँव से मिठ्ठी एकत्रित करके आदि शंकराचार्य की ओम्कारेश्वर में बने वाली अष्ट धातु की प्रतिमा बनाई जाएगी इस प्रतिमा हुते जन जागरण  एकात्म यात्रा श्योपुर से होते हुए पोहरी नगर में प्रवास किया उस यात्रा का स्वागत शैलेन्द्र शर्मा भाजपा किशान मोर्चा अध्यक्ष व जनता व किसान मोर्चा के कार्यकर्तोंओ ने किया।

पोहरी नगर में जनता ने जोरदार स्वागत किया गया जगह जगह स्वागत द्वार बनाये गए नगर में बैनर  पोस्टरों से नगर सजा हुआ था इस यात्रा में लगभग 30 संत रथ यात्रा पर विराजमान थे। जिनमे प्रमुख रूप से राधे बाबा, परमानंद जी महाराज उपस्थित थे।

21 जनबरी को ओम्कारेश्वर पहुचेगी एकात्म यात्रा
आदिशंकराचार्य की प्रतिमा हेतु धातु संग्रहण एवं जनजागरण अभियान के अयोजन हेतु मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में 102 सदस्यीय राज्य स्तरीय आयोजन समिति तथा प्रभारी मंत्री की अध्यक्षता में जिला स्तरीय आयोजन समिति का गठन किया गया। जिसका मुख्य उद्देश्य है ओम्कारेश्वर में 108 फ़ीट ऊची आदिशंकराचार्य की अष्टधातु की विशाल प्रतिमा के निर्माण हेतु समाज के सभी वर्गों से सांकेतिक धातु संग्रहण करना है। 

यह यात्रा 19 दिसंबर 2017 को चार अलग-अलग स्थानों से एक साथ प्रारम्भ होकर  दिनांक 21 जनवरी तक प्रत्येक जिलों से सांकेतिक धातु संग्रहण एवं जनजागरण करते हुए ओमकरेश्वर पहुंचेगी, जहा दिनांक 22 जनवरी 2018 को आदिशंकराचार्य की प्रतिमा की स्थापना हेतु भूमि पूजन तथा जनसंबाद कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा।
Share on Google Plus

Legal Notice

Legal Notice: This is a Copyright Act protected news / article. Copying it without permission will be processed under the Copyright Act..

0 comments:

Loading...
-----------

analytics