Ad Code

Responsive Advertisement

पोहरी चुनाव: नही लडेंगेें विवेक पालीवाल चुनाव, ब्राह्मण समाज की बैठक में निर्णय | Pohri News

शिवपुरी। पोहरी विधानसभा से चुनाव को लेकर बडी खबर आ रही हैं,कि निर्दलीय रूप में पोहरी से चुनाव लडने का मन बना चुके भाजपा नेता विवेक पालीवाल अब पोहरी से चुनाव नही लडेंगें,वे कल अपना नामाकंन वापस लेगें,बताया जा रहा है कि उकत निर्णय ब्राहम्मण समाज की बैठक में हुए निर्णय में लिया गया है।

जानकारी के अनुसार भाजपा से पोहरी के प्रत्याशी के रूप में टिकिट मांग रहे भाजपा नेता विवेक पालीवाल को भाजपा ने टिकिट नही दिया और दसरी ओर कांग्रेस ने भी अपना प्रत्याशी धाकड समाज से खडा किया था इस कारण यह मांग उठ गई थी कि किसी भी एक ब्राहम्मण नेता को मैदान में उतारना चाहिए। 

इसी मांग पर पोहरी से भाजपा के नेता विवेक पालीवाल ने अपना नामाकंन पोहरी विधानसभा से भरा था। पिछले 9 तारिख से पोहरी विधानसभाा में विवेक पालीवाल का सर्वे चल रहा था कि चुनाव लडा जाए कि नही। आज ग्राम टोरिया में ब्राहम्मण समाज की बैठक इसी संबंध में एक बैठक का आयोजन भी किया गया था। 

इस बैठक में पोहरी विधानसभा के भाजपा नेता विवेक पालीवाल,पूर्व विधायक नरेन्द्र बिरथरे और पोहरी क्षेत्र के सभी गांव के ब्राहम्मण  2 या 4 समाज भाई मौजूद थे इस बैठक में निर्णय लिया गया कि पार्टी के बिना ब्राहम्मण प्रत्याशी को मैदान में उतारने का निर्णय सही नही होगा। इस कारण समाज ने निर्णय लिया कि विवेक पालीवाल को इस चुनाव में निर्दलीय लडना खतरे से खाली नही हैं। इस कारण यह निर्णय हुआ कि अब विवेक पालीवाल चुनाव नही लडेंगें। 

वही दूसरी ओर यह खबर भी आ रही है कि भारत सरकार के केन्द्रिय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर के किसी ठोसे आश्वासन पर भी विवके पालीवाल ने चुनाव न लडने का मन बनाया हैंं। इस निर्णय के बाद कांग्रेस और भाजपा दोनो पार्टी संकट में आ गई है इसके बाद धाकडो को छोडकर पोहरी विधानसभा में सभी जातिया हाथी को पंसद कर रही है।