Ad Code

Responsive Advertisement

बैराड में शुक्ला जी की सफाई: में पत्नि का इलाज करा रहा था, लोगों ने मुझे हाथी और फूल की सवारी करा दी | Bairad News

शिवपुरी। जिले के पोहरी विधानसभा से टिकिट कटने से नाराज चल रहे कांग्रेस के दिग्गज नेता और पूर्व विधायक हरीबल्लभ शुक्ला कल सांसद सिंधिया के साथ जिले के पोहरी विधानसभा के बैराड में सभा के दौरान अचानक उपस्थिति हो गए। इस दौरान सबसे अहम बात यह सामने आई कि सभा में कांग्रेसी नेता हरीबल्लभ मंच पर सफाई दे रहे थे। उस दौरान सांसद सिंधिया उनके पास हाथ जोड कर खडे नजर आए। जिससे माना जा रहा है कि सांसद सिंधिया के कहने पर हरीबल्लभ शुक्ला ने अपनी सफाई दी। 

हरीबल्लभ शुक्ला ने सफाई देते हुए कहा कि मैं दस दिन दिल्ली में रहा। इसलिए में आपके बीच नहीं आ पाया। सिंधिया से कहते हुए बोले कि महाराज मैं दिल्ली में अपनी पत्नी का इलाज करा रहा था और यहां लोगों ने मुझे हाथी और घोड़ा पर बिठा दिया। परसों पता चला कि मैंने फूल की सवारी कर ली, मैंने फूल को आशीर्वाद दे दिया। उन्होंने सवालिया अंदाज में कहा कि मैने क्या कोई आश्रम खोल रखा है कि आशीर्वाद दूंगा। 

शुक्ला ने स्वीकारा कि टिकट कटता है तो दुख तो होता है। पिछली बार सुरेश को नहीं मिला था, दुख उसको भी हुआ था। सिंधिया को साधने भरे अंदाज में कहा कि हमारे सेनापति महाराज ने सुरेश की ड्यूटी लगाई है। हम सर झुकाकर उनका निर्णय मानेंगे। गलत फहमियां दूर कर लो, अगर शंका है तो शंका दूर कर लो। यह टिकट ज्योरादित्य सिंधिया का टिकट है। 

उन्होंने कहा कि कोई भी षडयंत्रकारी मेरे और महाराज के बीच दूरियां पैदा करने की लाख कोशिश करे, आत्मा से महाराज के साथ था, महाराज के साथ हूं और महाराज के साथ रहूंगा। भाषण के दौरान हरिवल्लभ बोलते रहे और सिंधिया मंच पर हाथ रखकर खड़े रहे। जिससे ऐसा लग रहा था कि सिंधिया स्वयं खड़े रहकर शुक्ला से भाषण दिलवा रहे हों।