Ad Code

महिलाओं के बीच शराब पीकर नाच रहे थे पिता-पुत्र, आरक्षक ने रोका तो की मारपीट | Pichhore News

शिवपुरी। पिछोर में कल शाम शराब के नशे में धुत्त पिता-पुत्र ने माता विसर्जन के दौरान निकाले जा रहे चल समारोह में महिलाओं के बीच नाच रहे पिता-पुत्र को आरक्षक द्वारा रोके जाने पर उसकी मारपीट कर दी और आरक्षक को आरोपी पिता-पुत्र ने जमकर गाली गलौच कर उसे शासकीय कार्य करने से रोक दिया। पुलिस ने पीडि़त आरक्षक गणेशशंकर मांझी की रिपोर्ट पर दोनों आरोपियों के खिलाफ भादवि की धारा 353, 332, 294, 506, 34 के तहत प्रकरण पंजीबद्ध कर लिया है। 

जानकारी के अनुसार कस्बे में माँ दुर्गा की प्रतिमा को विसर्जन के लिए आयोजकगणों द्वारा कस्बे के विभिन्न मार्गों से चल समारोह निकालकर ले जाया जा रहा था। इस दौरान आरोपी मुकेश रजक अपने पुत्र छोटू रजक के साथ चल समारोह शामिल था जहां दोनों पिता-पुत्र शराब के नशे में धुत्त थे जिन्होंने नशे में चल समारोह में चल रहीं महिलाओं के बीच घुसकर नाचना शुरू कर दिया जिन्हें ड्यूटी पर मौजूद आरक्षक गणेशशंकर ने बाहर निकाला। 

लेकिन इसके बाद भी दोनों आरोपी महिलाओं के बीच घुस गए जिन्हें आरक्षक ने कई बार समझाने का प्रयास किया, लेकिन वह दोनों नहीं मानें इसके बाद आरक्षक दोनों को पकडक़र चल समारोह से कुछ दूर लेकर आ गया जहां दोनों आरोपियों ने आरक्षक की मारपीट शुरू कर दी। 

किसी तरह आरक्षक दोनों आरोपियों के चंंगुल से छूटकर अपने अन्य आरक्षकों के पास पहुंचा इसके बाद पुलिस ने दोनों को पकड़ लिया। बताया जाता है कि घटना के समय आरक्षक वर्दी में नहीं था जिस कारण आरोपियों को लगा कि उन्हें कोई व्यक्ति जबरन परेशान कर रहा है और इसी के चलते दोनों आरोपियों नेआरक्षक की पिटाई लगा दी।