Ad Code

सांसे थामने वाली खबर: स्कूल के बच्चो से भरी बस बिजली के खंभे को तोड़कर गड्ढे जा में लटकी

शिवपुरी। शिवपुरी जिले में सुप्रीम कोर्ट की गाईड लाईन का खुल्ले रूप से उल्घन्न हो रहा हैं। खासकर एक ऐसी गाईडलाईन जिसमें आपकी बच्चों की जान के खतरे की हो, बार-बार स्कूल संचालक अपनी खटरा बसो को सडक़ो से नही हटा रहे है। आज एक ऐसी ही एक खटरा बस एक बिजली के खंभे जिसके तारो में बिजली का कंरट दौड रहा था उससे जा टकराई और खंभे को तोडकर एक गड्डे में जा लटकी।  ग्रामीणो की समझदारी और ईश्वर की इन नन्है-मुन्है की अभूतपूर्व कृपा से यह हादसा ठल गया। इस हादसे की कल्पना भी शब्दो में उकेरी नही जा सकती हैं। 

जानकारी के अुनसार ग्राम सिंहनिवास में स्थित सैंट पीटर्स स्कूल की बस सिरसौद थाना के गांव भैसोना की ओर बच्चो को लेने प्रतिदिन जाती हैं। आज सुबह इस स्कूल की बसे बच्चो को लेकर वापस स्कूल की ओर लौट रही थी, तभी रास्ते में पडने वाले भौराना गांव में अचानक इस बस के ब्रेक फैल हो गए। 

बस के ब्रेक फैल होने के कारण बिजली के खभें को तोड़ते हुए एक गड्डे मेें जा टकराई। बताया जा रहा हैं कि इस बस में लगभग 35 बच्चे थे। इसी बस में एक नन्हा बालक अंश सक्सैना पिता धर्मेन्द्र सक्सैना जो घटना स्थल के समीप के गांव भैसोना गांव में निवास करते हैं, इस बच्चे ने बस के क्लीडंर को अपने पिता का नंबर दिया। और बस के क्लीडंर अनिल जाटव ने पूरी बात बताई। जानकारी आ रही है कि तत्काल धर्मेन्द्र सक्सैना अपने साथ ग्रामीणो को लेकर आए और इस खंभे से गुजर रहे तारो में दौड रहे कंरेट को डीपी से एक लकडी की सहयता से डीपी के डीओ उतारे गए जिससे कंरट से झूल रहे तारो में करंट बंद हो गया। इसके बाद सभी बच्चो को सकुशल उतारा गया। बताया गया हैं कि 5 बच्चो को मामूली चोटे आई हैं। 

घटना की सूचना पाते हीे शिवपुरी एसपी राजेंश हिंगणकर तत्काल मौके पर पहुंचे और बच्चो का हालचाल जाना। पालको ने बताया की यह बस कभी भी रास्ते में खराब हो जाती हैं। इसकी कई बार शिकायत भी जा चुकी हैं,लेकिन इस पर कोई कार्यवाही नही की गई।