SHIVPURI में डेंगू का आतंक, 2 दर्जन मरीज मिले, मनियर बीज गोदाम के पास हर घर में बीमार

शिवपुरी। भारत में एक जीव से लडने के लिए उसके नाम से पूरा एक विभाग मलेरिया विभाग बनाया गया हैं। इसके आलावा इस विभाग का साथ 2 विभाग नपा और स्वास्थय विभाग भी साथ देते हैं। पर उक्त तीनो विभाग मच्छर से नही लड पा रहें हैं। बताया जा रहा हैं कि शहर में अभी तक 2 दर्जन से अधिक मरिज डेंगू के पॉजीटिव मिल चुके हैं,ओर मनियर क्षेत्र में स्थिती और खराब हैं तालाब के पास रहने वाले हर घर में मच्छर के डंक का आतक है हर घर में एक बीमार हैं। 

जानकारी यह मिल रही हैं कि नगर पालिका के वे सब इंजीनियर भी तपते बुखार से लड रहे हैं। जिनकी इन मच्छरो की रोक थाम के इंतजाम करने की जिम्मेदारी थी। नपा के सब इंजीनियर रामवीर शर्मा बीमार है डेंगू के लक्षण दिख रहे हैं,प्लेटलेट्स 20 हजार रह गई हैं।  इसी तरह सब इंजीनियर अजय करारे की प्लेटलेट्स कम होने से ग्वालियर में इलाज चल रहा है। 

इनके अलावा हाल ही में फर्जी बीपीएल मामले में कार्रवाई की जद में आए आरआई मोहन शर्मा भी के बेटे का भी ग्वालियर में इलाज चल रहा है। इनकी भी डेंगू की जांच कराई गई है। अब तक शहर में 17 डेंगू पॉजिटिव मरीज सामने आ चुके हैं। 1 जुलाई से 21 अगस्त तक 15 मरीज डेंगू पीडित निकले हैं। लेकिन ऐसे भी कई मरिज सामने आ रहे है जिनका ग्वालियर में ईलाज में चल रहा है जिन्होने शिवपुरी में जांच ही नही कराई सीधे-ग्वालियर ईलाज कराने ग्वालियर गए हैं। 

डेंगू पॉजिटिव 5 मरीज ग्वालियर से इलाज कराकर लौटे 
सुरेन्द्र धाकड उम्र 20 साल पुत्र विजय पाल सिंह निवासी भरका हाल महाराणा प्रताप कॉलोनी शिवपुरी मंगलवार को ही ग्वालियर से इलाज कराकर लौटा है। सुरेन्द्र का कहना है कि शिवपुरी में जिस मकान में रहता है वहां 3-4 लोगों को डेंगू हुआ है। 

संदेश उम्र 12 साल पुत्र संतोष लोधी मंगलवार को सिरसौद गांव लौटे हैं। संदेश एमएम अस्पताल के पीछे शिवपुरी में रहकर पडता है। संदेश को फिर से बुखार आ गया। इसी तरह रेखा  उम्र 35 वर्ष पत्नी धर्मेन्द्र, बलविंदर कौर पत्नी अमरीक सिंह निवासी न्यू दर्पण कॉलोनी बायपास शिवपुरी की रिपोर्ट पॉजीटिव आई है। पूर्व पार्षद हरीसिहं कुशवाह ने बताया कि उनके नाती गौरव 12 वर्ष  पुत्र आनंद कुशवाह को 11 अगस्त को बुखार आने पर डॉक्टर को दिखाया। 12 अगस्त को डॉ राजकुमार ऋषीश्वर ने रेफर कर दिया और 13 अगस्त की सुबह ग्वालियर भर्ती कराया। जांच में डेंगू पॉजिटिव। हालत में सुधार होने पर 21 अगस्त को डिस्चार्ज कर बच्चे को घर लाए हैं। साथ ही किराएदार राजेश की बेटी सुहानी  12 साल को पहले डेंगू हुआ। उसके बाद बेटे यशराज कुशवाह 9 साल  को भी डेंगू पॉजीटिव निकला है। दूसरे किराएदार के बेटे आयुष 12 साल पुत्र ओमप्रकाश धाकड की जांच भी पॉजीटिव आई है। 

सरकारी अस्पताल पर भरोसा नहीं, सीधे ग्वालियर जा रहे हैं मरीज
जिला अस्पताल शिवपुरी में डेंगू की जांच के लिए एक लाख रुपए की किट खरीदी गईं हैं। लेकिन मरीज जिला अस्पताल नहीं आ रहे। प्राइवेट इलाज कराने के बाद मरीज सीधे ग्वालियर रवाना हो रहे हैं। अधिकारियों का कहना है कि मरीज जिला अस्पताल आएं और डेंगू संदिग्ध होने पर जांच करवा सकते हैं। वहीं मलेरिया विभाग का कहना है कि नगर पालिका की ओर से पर्याप्त अमला नहीं मिल रहा है। 

अभी तक 17 मरीजों की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव मिली 
शिवपुरी में अभी तक 17 मरीज की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। नगर पालिका के सब इंजीनियरों की रिपोर्ट अभी हमारे पास नहीं आई है। नगर पालिका ने जो कर्मचारी उपलब्ध कराए हैं उनके साथ लार्वा विनिष्टीकरण का काम तेजी से करा रहे हैं। डेंगू जांच के लिए जिला अस्पताल में सुविधा मौजूद है। 

मनियर क्षेत्र में हर घर में एक बीमार 
मनियर क्षेत्र में हालात सबसे खराब है यह 2 बहनों को डेंगू पॉजीटिव आया और एक बहन शिवा ने डेंगू के डंक से दम तोड दिया था। शिवा की बहनें आकांक्षा परिहार उम्र 8 साल,और भक्ति परिहार उम्र 6 साल को डेंगू पॉजिटिव आया,इनका ईलाज ग्वालियर हुआ था और अब यह दोनो स्वस्थय हैं। 

मनियर क्षेत्र में हर जगह पानी भरा होने के कारण मच्छरो का आंतक है। बीज गोदाम के पास अतिक्रमण में लोग रह रहे है। यहां तालाब होने के कारण गढडो में पानी भरा है इससे मच्छर पनप रहे हैं। इस कारण बीज गोदाम के पास स्थित सबसे ज्यादा खराब हैं। यहां हर घर में एक बीमार बताया जा रहा हैं।  

Comments

Popular posts from this blog

Antibiotic resistancerising in Helicobacter strains from Karnataka

जानिए कौन हैं शिवपुरी की नई कलेक्टर अनुग्रह पी | Shivpuri News

शिवपरी में पिछले 100 वर्षो से संचालित है रेडलाईट एरिया