PICHHORE के पहलवान को पटकने रणनीति शुरू, 12 हजार फर्जी वोट का आरोप

शिवपुरी। पिछोर विधानसभा सीट कांग्रेस की अजेय सीट है। इस गढ़ को गिराने के लिए भाजपा ने अभी तक अपनी पूरी ताकत लगा ली, लेकिन भाजपा को नाकामी मिली है। दिग्गी विरोधी लहर में उमा भारती ने जोर लगाया लेकिन पत्ता भी नहीं खड़का, शिवराज लहर में इस किले का एक पत्थर भी नही हिला। अब भाजपा को चौथी बार सत्ता में आना है। इस कारण एक-एक सीट पर हॉमवर्क शुरू हो चुका है खासकर ऐसी सीट जहां भाजपा पिछले कई चुनाव हारी है। 

पिछोर के पहलवान केपी सिंह को पटकनी देने के लिए भाजपा ने तैयारी शुरू कर दी हैं। पिछोर के पहलवान का पटकनी देने के लिए इस सीट से भाजपा के टिकट लड चुके प्रीतम लोधी ने इस क्षेत्र के वयोवृद्व 101 वर्षीय प्रदेश के पूर्व राजस्व मंत्री लक्ष्मीनारायण गुप्ता को लेकर कलेक्टर कार्यालय शिवपुरी पहुंचे। भाजपा के नेता प्रीतम लोधी ने कलेक्टर को पिछोर विधानसभा की मतदाता सूची सौपी और कहां कि पिछोर विधानसभा में 12 हजार मतदाता फर्जी हैं। वयोवृद्व नेता जी ने तो यहां तक कह दिया कि अगर कलेक्टर ने कार्यवाही नही की तो में अब कभी कलेक्ट्रेट नही आंऊगा। 

यह कहा BJP नेता प्रीतम लोधी ने 
लगभग एक दर्जन गांव की मतदाता सूचियां लेकर कलेक्ट्रट आए भाजपा नेता प्रीतम लोधी ने बताया कि पिछोर विधानसभा क्षेत्र में लगभग आधा सैकड़ा गांव व पोलिंग बूथ ऐसे हैं, जहां पर मतदाताओं के नाम दो-दो तीन-तीन जगह दर्ज हैं। लोधी ने बताया कि आम मतदाता नही बल्कि बीएलओ के परिवार के नाम तक दो-दो तीन-तीन जगह दर्ज हैं। प्रशासन ने केवल मृत मतदाता के नाम काटे हैं, लेकिन जिनके नाम एक से ज्यादा जगह अंकित है वे नही काटे। प्रीतम लोधी ने ग्राम करारखेडा गांव (केपी सिंह का पेतृक गांव) का उदाहरण देत हुए कहा कि यहां पर ज्यादा मततदाता सूची में गड़बड़ी हैं। प्रीतम लोधी ने कहा कि पूरी विधानसभा में लगभग 12 हजार वोटर फर्जी हैं।   

कांग्रेंस का हथियार कांग्रेस पर चला
जैसा कि विदित है कि शिवपुरी-गुना के सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने चुनाव आयोग का शिकायत की थी कि पूरे मप्र में लगभग 60 लाख मतदाता फर्जी है। कोलारस विधानसभा में ही लगभग 20 हजार मतदाता फर्जी होने की शिकायत की गई थी। कोलारस विधानसभा की मतदाता सूची के कारण ही शिवपुरी कलेक्टर तरूण राठी लपेटे में आ गए थे और उनका ट्रांसफर हुआ था। 

कुल मिलाकर पिछोर विधाससभा 2013 का चुनाव कांग्रेस केपी सिंह और भाजपा के नेता प्रीतम लोधी के साथ हुआ था। इस चुनाव में पिछोर के पहलवान ने भाजपा के पहलवान को लगभग 6500 वोटों से पटका था, लेकिन अब अगर यह शिकायत सही सबित होती हैं और 12 हजार मतदाता फर्जी मानकर हटाए जात हैं, तो यह समझ लीजिए की मैदान में उतरने से पूर्व ही भाजपा ने कांग्रेस पर धोबीपछाड़ दांव लगा दिया।
Share on Google Plus

Legal Notice

Legal Notice: This is a Copyright Act protected news / article. Copying it without permission will be processed under the Copyright Act..

0 comments:

Loading...
-----------

analytics