भारत बंद के दौरान सामाजिक समरसता का संदेश दिया शिवपुरी की मीडिया ने: एडीशनल एसपी मौर्य

शिवपुरी। राष्ट्रीय चेतना प्रसारण न्यास शिवपुरी द्वारा आद्य पत्रकार देवऋषि नारद की जयंति के उपलक्ष्य पर पत्रकार सम्मान समारोह एवं सामाजिक समरसता और मीडिया की भूमिका पर कार्यशाला आयोजित की गई। कार्यशाला में मुख्य अतिथि अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कमल मौर्य, अध्यक्षता वरिष्ठ पत्रकार आलोक एम इंदौरिया ने की वहीं विशिष्ट अतिथि संघ प्रचार विभाग की प्रांतीय सदस्य हरिहर शर्मा, मुख्य वक्ता के रूप में संघ के विभाग कार्यवाह राजेश भार्गव जी ने की एवं संगोष्ठी का संचालन जिला प्रचार प्रमुख धर्मेन्द्र सिंह सिसौदिया वहीं विशेष रूप से उपस्थित लोगों में संघ के विभाग प्रचार प्रमुख उमेश भारद्वाज, संघ के जिला संघ संचालक विपिन शर्मा जी, जिला कार्यवाह अजय राजपूत उपस्थित थे।

नारद जयंती पर आयोजित संगोष्ठी में मुख्य अतिथि अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कमल मौर्य ने कहा कि नारद जी पत्रिकारिता के जनक थे और ये विधा समाज के लिए बहुत ही उपयोगी है। जहां तक प्रशासनिक बात हैं ये सही है कि मीडिया के द्वारा कई बार हमें ऐसी जानकारियां मिल जाती है जो लोकहित में न केवल उपयोगी होती हैं बल्कि हमारे संसाधनों के द्वारा हम उन्हें कई बार प्राप्त नहीं कर पाते। उन्होंने कहा कि 2 अप्रैल और उसके बाद की घटनाओं में शिवपुरी की मीडिया ने जो सकारात्मक सहयोग दिया उसके कारण ही यहां की सामाजिक समरसता कायम रही। 

संगोष्ठी की अध्यक्षता कर रहे आलोक एम इंदौरिया ने लेखक और वरिष्ठ पत्रकार अलोक एम इंदौरिया ने कहा कि वर्तमान परिवेश में पत्रिकारिता कैसे स्वस्थ्य रहे और सामाजिक समरसता कायम रहे यह एक बड़ी चुनौती है। पत्रकार जहां समझौता कर लेते हैं वहां स्वस्थ्य पत्रिकारिता संभव नहीं है और हमें सामाजिक हित में खुद की सुरक्षा करते हुए वेहतर पत्रिकारिता का रास्ता खोजना होगा। उन्होंने कहा कि मीडिया को सामाजिक समरसता के लिए अच्छे चरित्रों को, अच्छे तथ्यों को पूर्वाग्रह छोडक़र सामने लाना चाहिए और प्रयास करना चाहिए कि वंचित समाज का स्वाभिमान जाग्रत हो। 

उन्होंने सोशल मीडिया के सदुपयोग के साथ-साथ दुरूपयोग पर गंभीर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि सामाजिक समरसता के लिए हमें सोशल मीडिया के क्षेत्र में भी काम करना होगा। कार्यक्रम के मुख्य वक्ता जिला कार्यवाह राजेश भार्गव ने मीडिया से अनुरोध किया वे सामाजिक समरसता के क्षेत्र में अपनी प्रभावि भूमिका दर्ज करते हुए राष्ट्रोत्थान में मदद करें। क्योंकि सबसे ऊपर हमारा देश हैं उसके बाद ही हम हमारी जाति, हमारा वर्ग, आता है। हम सभी यदि आपस में छिन्न भिन्न हुए तो राष्ट्र का क्या होगा। श्री भार्गव ने कहा कि भले ही आज पत्रकारों पर लोग अंगुली उठाते हों लेकिन पत्रकारों के कठिन परिश्रम और उनकी मेहनत जो खबर के लिए करते हुए वह किसी से कमतर नहीं है।

वे देते हैं कि युद्ध, भूचाल, सर्दी, गर्मी की परवाह न करते हुए सैना के जवानों के साथ-साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़े दिखाई देते हैं। अवसर पर विश्व संवाद केन्द्र के पूर्व प्रांतीय प्रमुख हरिहर शर्मा ने संघ के प्रचार विभाग द्वारा राष्ट्र और समाज हित में जो कार्य किए जाते वह अनुकर्णीय है उन्होंने कहा कि प्रचार विभाग द्वारा मीडिया को सकारात्मक रूप अपनाने का आग्रह करता ही है साथी ही राष्ट्रहित में अपनी लेखनी चलाने के लिए जनजागृति भी लाने का कार्य करता है।  

इस अवसर पर पत्रकार दीपेन्द्र चौहान, सेमुअलदास, विपिन शुक्ला, परवेज खान, अशोक अग्रवाल का पत्रकारिता के क्षेत्र में उनकी सराहनीय सेवाओं के लिए मुख्य अतिथि और अध्यक्ष के द्वारा शॉल श्रीफल देकर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर अतिथियों को नारद स्मृति चिन्ह भेंट किए गए और सहभोज के साथ कार्यक्रम का समापन हुआ। इस अवसर पर सभी पत्रकार साथी एवं सामाजिक कार्यकर्ता उपस्थित थे। 

Share on Google Plus

Legal Notice

Legal Notice: This is a Copyright Act protected news / article. Copying it without permission will be processed under the Copyright Act..

0 comments:

Loading...
-----------

analytics