ads

Shivpuri Samachar

Bhopal Samachar

shivpurisamachar.com

ads

सांसद सिंधिया, फिर उभरी हार की टींस: बोले बताओ मेरी गलती क्या है पता लगेगा तो मैं उसमें सुधार करूंगा | Shivpuri News

शिवपुरी। कल देर रात नक्षत्र गार्डन में लघु व्यापारी संघ के व्यापारियों को संबोधित करते हुए सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया की पिछले लोकसभा चुनाव में शिवपुरी से पराजित होने की पीड़ा उभरकर सामने आई। उन्होंने कसक भरे स्वर में कहा कि यह शिवपुरी न तो नरेंद्र मोदी की है और न ही शिवराज सिंह चौहान की। यह शिवपुरी मेरी है और पिछले चुनाव में यहां से मैं पराजित हो गया। यह तो बताओ कि आखिर मेरी गलती क्या थी? गलती बताओगे तो मैं उसमें सुधार करूंगा। लगभग 1 घंटे तक अपने उदबोधन में ङ्क्षसंधिया ने अनेक बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ललकारा। 

जिला कांग्रेस के कार्यवाहक अध्यक्ष राकेश गुप्ता के संयोजकत्व में आयोजित इस समारोह में सिंधिया ने पूर्ण हार्दिकता से अपने मन की बात रखी। उन्होंने कहा कि यह लोकसभा चुनाव साधारण चुनाव नहीं है बल्कि सत्य और मिथ्य के बीच चुनाव है। उन्होंने कहा कि भले ही सत्य कितना भी परेशान हो जाए, लेकिन हार नहीं सकता। अंतत: जीत सत्य की होती है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला करते हुए श्री सिंधिया ने कहा कि पिछले लोकसभा चुनाव के पूर्व वह शिवपुरी में आए थे और यहां की भोली भाली जनता को भरमाते हुए उन्होंने वायदा किया था कि 6 माह के भीतर सिंध का पानी शिवपुरी में आ जाएगा।

उन्होंने व्यापारियों से सवाल किया कि क्या 6 माह मे सिंध का पानी शिवपुरी आया, लेकिन मैं वायदा करता हूं कि इस साल 15 और 20 अप्रैल तक सभी ओवरहैड पानी की टंकियां पानी भर जाएंगी और टैंकरों के जरिए लोगों के घर घर तक सिंध का पानी पहुंच जाएगा। जून माह तक डिस्ट्रीब्यूशन लाइन डल जाएंगी और लोगों के घरों तक टोंटियों के जरिए सिंध का पानी पहुंचेगा। 

श्री मोदी को निशाने पर लेते हुए सिंधिया ने कहा कि उन्होंने मेडिकल कॉलेज के प्रस्ताव को तब कागज का टुकड़ा बताया था और कहा था कि क्या कागज के टुकड़े से मेडिकल कॉलेज बनता है। मैं उन्हें शिवपुरी आमंत्रित करता हूं वह आएं और देखें कि कैसे कागज के टुकड़े से मैने मेडिकल कॉलेज बनवाया है। इस कार्यक्रम में पूरे गार्डन में स्थान स्थान पर टेबिल और कुर्सियों पर अलग अलग व्यापारिक संगठनों के व्यापारी आसीन थे और सिंधिया पूरे गार्डन मेंं घूम घूमकर एक एक टेबिल पर पहुंचकर व्यापारियों को अपनी भावनाओं से अवगत करा रहे थे। 
Share on Google Plus

About Bhopal Samachar

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.