CRPF जवानों की शहादत का प्रतीक है शौर्य दिवस: IG पवार | Shivpuri News

शिवपुरी। 09 अप्रैल 1965 का दिन सीआरपीएफ जवानो की शहादत का दिन है और इस दिन को सीआरपीएफ शौर्य दिवस के रूप में मनाता है जवानों की यह शहादत शौर्य का प्रतीक है क्योंकि देश की एकता, अखण्डता के लिए सीआरपीएफ संपूर्ण भारत वर्ष में तैनात है और अपने अदम्य साहस का परिचय देते है आज ही के दिन 09 अप्रैल 1965 को सरदार पोस्ट, कच्छ गुजरात में पाकिस्तान की एक ब्रिगेड (जिसमें 3500 जवान होते है) ने तोप और टैंक के साथ धोखे से सीआरपीएफ के एक छोटी सी टुकड़ी के पोस्ट पर रात के समय घातक हमला किया जिसका सीआरपीएफ के जवानों द्वारा मुंहतोड़ जबाब दिया गया।

करीब 15 घंटे तक चली इस भीषण मुठभेड़ में पाकिस्तानी सेना के 34 सैनिकों को मार गिराया जबकि 04 को जिंदा पकड़ा इस दौरान सीआरपीएफ के 06 वीर जवानों ने अपना सर्वोच्च बलिदान देते हुए अपने प्राण भारत माता की चरणों में अर्पित किए, आज उन्हीं शहीदों की शहादत का दिन है जिसे हम कभी भुला नहीं पाऐंगे और उन शहीद जवानों के शौर्य को स्मरण कर देश की रक्षा में अपना अभिन्न योगदान देंगें। उक्त आह्वान और संबोधन दिया सीआईएटी सीआरपीएफ संस्थान के आई.जी.मूलचंद पंवार ने जो स्थानीय परिसर के क्वार्टर गार्ड में आयोजित शौर्य दिवस कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। 

इस दौरान शहीद जवानों के शौर्य को स्मरण करते लिए क्वार्टर गार्ड पर जवानों की सलामी ली तत्पश्चात शौर्य दिवस के अवसर पर संस्थान में आयोजित जिला स्तरीय चित्रकला प्रतियोगिता के बीच पहुंचे। जहां बच्चों का मनोबल बढ़ाते हुए उन्हें देश के वीर सैनिकों की गाथाओं का स्मरण कराया। इस अवसर पर बच्चों द्वारा स्वच्छता एवं पर्यावरण संरक्षण को लेकर आकर्षक चित्रकला कोरे कागजों पर उकेरी जिसमें श्रेष्ठ प्रतिभाओं को संस्थान के आईजी मूलचंद पंवार द्वारा पुरूस्कृत किया गया। 

वीरता के लिए अलंकृत बल के लिए आईजी श्री पंवार हुए सम्मानित

सीआरपीएफ के द्वारा सरदार पोस्ट के ऊपर प्रदर्शित किए गए अद्भुत वीरता की उत्कृष्टता को सलाम करते हुए प्रतिवर्ष 09 अप्रैल को शौर्य दिवस का आयोजन किया जाता है जिसमें सीआरपीएफ की परंपरा अनुसार शौर्य दिवस के अवसर पर वीरता के लिए पदक से अलंकृत बल के सदस्यों को विशेष रूप से सम्मानित किया जाता है। सीआईएटी स्कूल शिवपुरी के प्राचार्य आईजी मूलचंद पंवार को वर्ष 2006 में मिले पुलिस वीरता पद हेतु इस अवसर पर विशेष सम्मान से सम्मानित किया गया। 

यह रहे विजयी प्रतिभागी

शौर्य दिवस के अवसर पर सीआईएटी स्कूल सीआरपीएफ परिसर में आयोजित जिला स्तरीय चित्रकला प्रतियोगिता में विभिन्न विद्यालयों के करीब 220 छात्र-छात्राओं ने भाग लिया। जिसके प्रथम कक्षा 6 से 8 तक के लिए स्वच्छ भारत, हरित भारत तथा पर्यावरण की रक्षा पर अपने रंग कौशल का प्रदर्शन किया जिसमें प्रथम वर्ग में प्रथम विजेता होलीबड्स स्कूल की कक्षा 5 की लॉरेन खान, द्वितीय विजेता हैप्पीडेज स्कूल की कक्षा 8 की रश्मि पाल व तृतीय विजेता हैप्पीडूेज स्कूल के ही कक्षा 8वीं की नीलाक्षी नागर रही। 

द्वितीय वर्ग में प्रथम स्थान पर हैप्पीडेज स्कूल की कक्षा 12वीं के इशांक लोधी, द्वितीय स्थान पर एसपीएस कक्ष 12वीं की मनीषा बघेल एवं तृतीय स्थान पर हैप्पीडेज स्कूल कक्षा 12वीं के दिव्यांश बुन्देला रहे। सभी विजयी प्रतिभागियों को संस्थान के आईजी श्री पंवार द्वारा प्रमाण पत्र, ट्रॉफी एवं नगद पुरूस्कार के साथ-साथ 10 सांत्वना पुरूस्कार भी प्रतिभागियों को प्रदान किए गए। 

Comments

Popular posts from this blog

Antibiotic resistancerising in Helicobacter strains from Karnataka

जानिए कौन हैं शिवपुरी की नई कलेक्टर अनुग्रह पी | Shivpuri News

शिवपरी में पिछले 100 वर्षो से संचालित है रेडलाईट एरिया