Ad Code

स्मैक और गांजे का तस्करी करते 3 बदमाश पकडे, 4 लाख का नशीला पदार्थ सहित इंडिगो कार जब्त | Shivpuri News

शिवपुरी। शिवपुरी पुलिस ने नशीले पदार्थ की तस्करी करते हुए 3 बदमाशोा को पकडेने में सफलता हासिल की हैं। इन बदमाशो से 4 लाख 12 हजार की कीमत का गांजा-स्मैम और 1 इंडिगो कार जब्त करने की कार्रवाई की हैं।

जानकारी के अनुसार शिवुपरी एसपी राजेंश हिंगणकर के निर्देशन में जिले में नशीले पदार्थ रखने और उसके परिवहन करने वालो के खिलाफ लगातार कार्रवाई शिवपुरी पुलिस की कार्रवाई जारी हैं,इसी क्रम में थाना दिनारा, कोतवाली एवं पिछोर ने बड़ी कार्यवाही करते हुए 4 लाख 12 हजार रूपये का गांजा एवं स्मैक तथा की एक इंडिगो कार कुल  कीमत 10 लाख 12 हजार रू का जप्त कर आरोपियों के विरूद्ध एनडीपीएस एक्ट के तहत कार्यवाही की गई।

बताया जा रहा है कि कल  पुलिस टीम द्वारा पिछोर रोड़ तिराहे के पास हाईवे रोड़ दिनारा में पहुंचकर चैकिंग शुरू की चैकिंग के दौरान उन्हे एक कार मुखबिर के बताये रंग की आती दिखी जैसे ही पुलिस टीम ने उक्त कार को रोकने की कोशिस की तो आरोपी चालक द्वारा कार को भागने की कोशिस की परन्तु पुलिस टीम ने बड़ी ही मुस्तेदी और साहस के साथ उक्त कार को रोककर आरोपी चालक को दबोच लिया। 

पकडे गए कार चालक से नाम पता पूछा तो उसने अपना नाम हेमंत पुत्र रामकिशन राय उम्र 32 साल निवासी मकान नंबर 105 सेक्टर 4 विनयनगर बहोड़ापुर को का होना बताया बाद आरोपी की कार की तलाशी ली गई तो उसमें से आरोपी चालक से अवैध गांजा कुल 31 किलोग्राम कीमत 300000 रू एव ंएक इंडिगो कार क्रमांक एमपी 07 सीए 7747 कुल मश्रुका कीमत करीबन 900000 रू का विधिवत जप्त कर आरोपी के विरूद्ध एनडीपीएस एक्ट के तहत प्रकरण पंजीबद्ध कर गिरफ्तार किया गया।

इसी क्रम में कोतवाली पुलिस ने  पंकज पुत्र रमेशचंद महेश्वरी उम्र 35 साल निवासी गुलाब साहब की दरगाह के पास शिवानगर फिजिकल शिवपुरी का होना बताया बाद आरोपी की तलाशी ली गई तो उसके कब्जे से 10 ग्राम स्मैक कीमत लगभग 100000 रू की विधिवत जप्त की गई 

जिले की पिछोर थाना पुलिस ने ग्राम गणेशपुरा में विद्युत डीपी के पास से पुलिस टीम द्वारा एक व्यक्ति को दबोचकर नाम पता पूछा तो उसने अपना नाम रमेश पुत्र सियाराम लोधी उम्र 55 साल निवासी ग्राम गणेशपुरा जुंगीपुर का होना बताया बाद आरोपी की तलाशी ली गई तो उसके कब्जे से 1200 ग्राम गांजा कीमत लगभग 12000 रू का विधिवत जप्त किया गया बाद आरोपी के विरूद्ध एनडीपीएस एक्ट के तहत अपराध पंजीबद्ध कर गिरफ्तार किया गया।