Ad Code

पूर्व मंत्री भैया साहब उपेक्षा से नाराज, समर्थको संग भाजपा से इस्तीफा दे सकते है | Pichhore Shivpuri News

शिवपुरी। प्रदेश में सरकार से बहार हुई भाजपा में अर्तकलह के बादल छटने के नाम नही ले रहे हैं। लोकसभा में भाजपा को गुना-शिवपुरी से लडने को प्रत्याशी नही मिल रहा हैं। भाजपा के नेता एक जुट नही है। इस का उदाहरण ताजा-ताजा पिछोर से आ रहा है कि अपनी उपेक्षा से नाराज भाजपा के पूर्व मंत्री भैया साहब लोधी अपने समर्थको के साथ भाजपा का त्याग कर सकते हैं। 

बताया जा रहा है कि भाजपा मंडल पिछोर में पंडित दीन दयाल उपाध्याय के समर्पण दिवस को लेकर बैठक आयोजित हुई। बैठक में चर्चा के बाद मंडल के पदाधिकारियों ने उपेक्षा का आरोप लगाते हुए सामूहिक इस्तीफे की पेशकश की। हालांकि बाद में भाजपा जिलाध्यक्ष से चर्चा के बाद इस्तीफों का निर्णय रोक दिया गया। अब 13 फरवरी को बुलाई बैठक में निर्णय लिया जाएगा। 

इस घटनाक्रम के बाद वरिष्ठ भाजपा नेता एवं पूर्व मंत्री भैया साहब लोधी ने अचानक देर शाम प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाकर अपना इस्तीफा 12 फरवरी को देने की घोषणा कर दी। पिछोर विधानसभा चुनाव में लगातार हार के बाद भाजपा में आपसी खींचतान बढ़ने लगी है। मंडल अध्यक्ष से लेकर अन्य पदाधिकारियों ने पार्टी द्वारा दो महीने से उपेक्षा और व्यक्ति विशेष व उसके मिलने वालों पर अपमानित करने का आरोप लगाया है। 

भाजपा मंडल अध्यक्ष विकास पाठक के निवास पर मंडल पदाधिकारियों की सोमवार को बैठक आयोजित की गई। बैठक में पूर्व मंत्री भैया साहब लोधी सहित अन्य मंडल पदाधिकारियों ने बातचीत के बाद सामूहिक इस्तीफे की पेशकश कर दी। लेकिन भाजपा जिलाध्यक्ष सुशील रघुवंशी से बातचीत के बाद 13 फरवरी को बैठक तय की है। इसमें चर्चा के बाद इस्तीफा पर निर्णय होगा। इधर भाजपा जिलाध्यक्ष से बातचीत के बाद पूर्व मंत्री भैया साहब लोधी ने सोमवार की शाम 7:30 बजे इस्तीफे का ऐलान कर दिया है। 

संगठन को खत्म करने का व्यक्ति विशेष पर आरोप 
मंडल पदाधिकारियों ने बैठक का पंचनामा बनाया है जिसमें लिखा है कि विधानसभा चुनाव से लेकर अभी तक मंडल के पदाधिकारी एवं पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को व्यक्ति विशेष व उनके कुछ चाटुकारों द्वारा अपमानित किया जा रहा है। झूठे आरोप लगाए जा रहे हैं। पिछोर में संगठन को खत्म कर व्यक्ति विशेष की पार्टी बना ली। ऐसी स्थिति में हम पार्टी के पद से सामूहिक इस्तीफा दे रहे हैं। लेकिन दूरभाष पर भाजपा जिलाध्यक्ष एवं जिला महामंत्री ओमप्रकाश से चर्चा के बाद निर्णय लिया है कि 13 फरवरी को बैठक होगी। जिलाध्यक्ष व जिला महामंत्री के साथ बैठक के बाद निर्णय लेंगे। 

दो महीने से उपेक्षा हो रही है 
चुनाव के बाद हमारी दो महीने से उपेक्षा हो रही है। बाहर से प्रत्याशी आते हैं, उनके चाटुकार ने पूर्व सीएम के सामने तो हमारे वरिष्ठ नेता भैया साहब को मंच से उतार कर उन्हें अपमानित किया। जिलाध्यक्ष से बातचीत के बाद 13 फरवरी को बैठक रखी है। बैठक के बाद इस्तीफे के बारे में निर्णय लेंगे। विकास पाठक, मंडल अध्यक्ष, भाजपा मंडल पिछोर 

इनका कहना हैं
चुनाव के बाद कुछ लोगों के मन में खिन्नता आ गई है। परसों मैं पिछोर जाकर देखता हूं कि क्या बात है। फोन पर बातचीत हो गई है। सब लोगों के साथ बैठकर इस मुद्दे पर बात करेंगे। अभी इस्तीफे जैसी कोई बात नहीं है। 
सुशील रघुवंशी, जिलाध्यक्ष, भाजपा