आदिवासी महिलाओ के बैंक खातो से रूपए गायब, ठग चलित बैंक को लाए थे घर पर | karera, Shivpuri News

शिवपुरी। खबर जिले के करैरा अनुविभाग से आ रही है कि चलित बैंक के नाम पर जिले में सक्रिय ठगो ने आदिवासी बैंक खाता धारको से पैसे ठगने का मामला प्रकाश में आया है। बताया जा रहा है ठगो ने खाता धारको से डिवाईस पर अगूंठा लगवाया और पैसे निकाल लिए। 

जानकारी मिल रही है कि मप्र सरकार के द्धारा कुपोषण से लडने के लिए आदिवासी परिवारो की महिला मुखिया को खाते में 1-1 हजार रूपए अभी डाले थे। योजना के पैसे डलते ही ठग सक्रिय हो गए। चलित बैंक के बहाने ठगों ने महिलाआें के खातों से हजारों रुपए पार कर दिए हैं। 

करैरा अनुविभाग क्षेत्र के दो गांव सिल्लालपुर,नया अमोला में महिलाओं के साथ ठगी की घटनाएं सामने आईं हैं। महिलाएं शुक्रवार को करैरा पहुंची और खातों की जानकारी ली। यहां पता चला कि उनके खातों में आई रकम निकल चुकी है। महिलाओं का कहना है कि गांव में कार से आए तीन लोग खुद को बैंक अधिकारी बता रहे थे। 

घर आकर ही खाते से नगद राशि निकालकर देने की बात कही। चलित बैंक के बहाने उन्हीं लोगों ने खातों से राशि निकाल ली है। करैरा के सिल्लारपुर की आदिवासी बस्ती और नया अमोला में 60 से अधिक महिलाओं के साथ ठगी की बात सामने आ रही है। जबकि क्षेत्र में अन्य गांवों में भी ठगी की संभावना इनकार नहीं किया जा सकता है। 

ऐसे हुई ठगी: अंगूठा लगवाकर आधार-पे डिवाइज से निकाली रकम 

ठग अपने साथ आधार-पे डिवाइज साथ लाए थे। सभी आदिवासी महिलाओं के अंगूठे लगवाकर रकम निकाली गई है। आधार-पे डिवाइज बैंक शाखाओं द्वारा ही दुकानदार व अन्य उपभोक्ताओं को मांग के आधार पर जारी की जाती है। आधार-पे डिवाइज को बैंक द्वारा संंबंधित के खाते से लिंक कर दिया जाता है। सिर्फ अंगूठा लगाने भर से राशि निकाली जा सकती है। यही प्रक्रिया से कियोस्क सेंटर संचालित हैं। 

नया अमोला निवासी बैजा आदिवासी के खाते से ठगों ने 2 हजार रुपए निकाले हैं। ठग यहां 2 फरवरी और 4 फरवरी को आए थे। बैजा आदिवासी का अंगूठा थंब मशीन में लगवाकर राशि दूसरे खाते में भेज दी। जबकि महिला को बताया कि अभी उसके खाते में रकम जमा नहीं हुई है। ठगों ने गांव में इसी तरह दूसरी महिलाओं के खातों से राशि पार कर दी है। 

करैरा में बैंक आईं ये महिलाएं, खाते से रकम गायब का पता चला 

महिला गीता आदिवासी (35), कल्लन आदिवासी (28), धन्नो आदिवासी (25), लाडो आदिवासी (22), मुनिया (26), राधा आदिवासी (26), रामकली आदिवासी (28), गिरजा आदिवासी (60) सहित अन्य महिलाएं शुक्रवार को करैरा आईं। यहां खातों कीक जांच कराने पर पता चला कि रकम गायब है। बैंक अधिकारियों ने महिलाओं से क्षेत्रीय प्रबंधक में शिकायत दर्ज कराने को कहा है।
Share on Google Plus

Legal Notice

Legal Notice: This is a Copyright Act protected news / article. Copying it without permission will be processed under the Copyright Act..

0 comments:

-----------

analytics