तारिख तय नही तो युवाओ ने दी नई सरकार के खिलाफ आमरण अनशन की धमकी | Shivpuri News

शिवपुरी। सन 2011 से प्रदेश में शिक्षको की भर्ती नही हुई है। स्कूलो में शिक्षको की कमी हैं। प्रदेश में लगभग सात से आठ लाख युवा बीएड कर चुके हैं। पिछले भाजपा सरकार ने उच्चर माध्यमिक और माध्यमिक शिक्षक भर्ती परीक्षा की 21 दिसम्बर तय की थी,लेकिन कांग्रेस की सरकार में तारिख आगे बढाते हुए नई तारिख की घोषणा नही की हैं। 

इस नाराज इस परिक्षा के आवेदन युवक-युवतियां एक जुट होकर कलेक्ट्रेट पहुंच गए। और सीएम कमलनाथ के नाम प्रशासनिक अधिकारियों को ज्ञापन सौंपा है। जिसमें परीक्षा की तारीख आगे नहीं बढ़ाने की स्थिति में नई सरकार के खिलाफ आमरण अनशन की चेतावनी दी है। 

जानकारी के मुताबिक चुनाव परिणाम के साथ सत्ता में आने के बाद कांग्रेस सरकार ने 21 दिसंबर को होने वाली शिक्षक भर्ती परीक्षा स्थगित कर दी। परीक्षा की अगली तारीख अभी तक जारी नहीं की। जिससे नाराज होकर आवेदन करने वाले युवक-युवतियां एकजुट होकर कलेक्टोरेट पहुंच गए। डीएड व बीएड कर चुके युवाओं का कहना है कि साल 2011 के बाद करीब सात साल बाद शिक्षक भर्ती परीक्षा होने जा रही थी। 

सरकारी स्कूलों में शिक्षकों की अनेक पद खाली हैं जिससे छात्रों की पढ़ाई प्रभावित हो रही है। उच्च माध्यमिक के लिए 2 लाख 20 हजाकी र और माध्यमिक के लिए 4 लाख 50 हजार परीक्षा फार्म एमपीईबी के माध्यम से भरे जा चुुके हैं। 21 दिसंबर को अचानक परीक्षा को बिना अगली तारीख के आगे बढ़ा दिया है। 

प्रदेश के 7-8 लाख बेरोजगार युवा डीएड व बीएड योग्यता हासिल कर इस परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं। सरकार जल्द ही परीक्षा की तारीख 15 जनवरी तक घोषित नहीं करती है और 1 महीने के अंदर परीक्षा नहीं कराती है तो सभी युवक-युवतियां सरकार के खिलाफ आमरण अनशन शुरू कर देंगे। 

Comments

Popular posts from this blog

Antibiotic resistancerising in Helicobacter strains from Karnataka

जानिए कौन हैं शिवपुरी की नई कलेक्टर अनुग्रह पी | Shivpuri News

शिवपरी में पिछले 100 वर्षो से संचालित है रेडलाईट एरिया