मंच पर कुर्सी को लेकर कांग्रेस की महिला जिलाअध्यक्ष और पूर्व जिलाध्यक्ष में भिंडत, नौबत हाथापाई तक | SHIVPURI NEWS

शिवुपरी। सिंधिया जनसम्पर्क कार्यालय में कल महिला कांग्रेस की बैठक में कांग्रेस की महिला जिला अध्यक्ष और पूर्व जिलाध्यक्ष के बीच जमकर मुहबांद हुआ उसके बाद नौबत हाथापाई तक जा पहुंची। किसी तहर बैठक की मुख्य अतिथि प्रदेश महासचिव रूचि गुप्ता बीच बचाव नहीं करती। उनके हस्तक्षेप के बाद मामला किसी तरह से शांत हुआ। लेकिन विवाद गहराने पर कांग्रेस जिलाध्यक्ष बैजनाथ सिंह यादव, शहर कांग्रेस अध्यक्ष सिद्धार्थ लढ़ा और शैलेंद्र टेडिय़ा बैठक से बाहर चले गए। 

हूआ यह कि महिला कांग्रेस की यह बैठक प्रदेश महासचिव रूचि गुप्ता की उपस्थिति मेें लोकसभा चुनाव को लेकर आयोजित की गई थी। बैठक मेें बताया जाता है कि पूर्व जिलाध्यक्ष ऊषा भार्गव विलम्ब से पहुंची और जिलाध्यक्ष शशि शर्मा ने प्रोटोकॉल का हवाला देते हुए कांग्रेस जिलाध्यक्ष बैजनाथ सिंह यादव और शहर कांग्रेस अध्यक्ष शैलेंद्र टेडिय़ा तथा सिद्धार्थ लढ़ा को मंचासीन कर लिया। 

बैठक मेें ऊषा भार्गव जब पहुंची तो उन्हें पीछे बैठना पड़ा। इसे उन्होंने अपना अपमान समझा और बैठक में बखेड़ा खड़ा कर दिया। उन्होंने आरोपों के घेरे में जिलाध्यक्ष शशि शर्मा को लिया तथा कहा कि महिला कांग्रेस की बैठक में महिलाओं का अपमान हो रहा है। उनकी नहीं सुनी जा रही। उन्होंने जिलाध्यक्ष पर मनमानी का आरोप लगाया। 

इसका जिलाध्यक्ष शशि शर्मा ने प्रतिवाद किया और कहा कि प्रोटोकॉल के तहत ही जिला कांग्रेस तथा शहर कांग्रेस के पदाधिकारियों को मंचासीन किया गया है और इसमें महिलाओं के अपमान की बात क्या है। विवाद जब गहराने लगा तो महिला कांग्रेस की प्रदेश सचिव रूचि गुप्ता बचाव मेें आई और वह दोनों वरिष्ठ महिला कार्यकर्ताओं को शांत करती हुई नजर आईं। विवाद गहराता देखकर पुरूष पदाधिकारी बैठक से बाहर चले गए। 

इनका कहना है
लोकसभा चुनाव को लेकर महिला संगठन की बैठक रविवार को बुलाई गई थी और बैठक में सभी पदाधिकारियों को आमंत्रित किया गया था। बैठक शुरू होने के बाद महिला कांग्रेस की प्रदेश सचिव रूचि गुप्ता के साथ मंच सांझा करने के लिए शहर कांग्रेस अध्यक्ष सिद्धार्थ लढ़ा और शैलेंद्र टेडिय़ा को भी आमंत्रित किया गया। 

बस इसी बात को लेकर पूर्व जिला महिला कांग्रेस अध्यक्ष ऊषा भार्गव नाराज हो गईं और लेकिन जब उनसे जब उनसे कहा गया कि वह बैठक में देरी से आईं हैं। इसलिए उन्हें मंच पर नहीं बुलाया जा सका। लेकिन वह विवाद पर उतारू हो गई। 
शशि शर्मा महिला कांग्रेस जिलाध्यक्ष, शिवपुरी

महाराज ज्योतिरादित्य सिंधिया को आगामी लोकसभा चुनाव में विजयश्री हांसिल कराने की दृष्टि से महिला संगठन द्वारा बैठक आयोजित की गई थी। जिसमें प्रदेश सचिव और शिवपुरी विधानसभा प्रभारी रूचि गुप्ता भी शामिल हुई थी और बैठक शुरू हो गई थी। 

तभी जिलाध्यक्ष श्रीमति शर्मा के समक्ष उन्होंने चुनाव संबंधी अपने अनुभव बताए लेकिन उन्होंने उनकी बात नहीं सुनी। जिससे उन्हें महसूस हुआ कि उनकी बात को तबज्जों नहीं दिया जा रहा है। जिस कारण उन्होंने इसकी शिकायत श्रीमति गुप्ता से की और इसी बात को लेकर वह मुंहबाद करने लगे।
ऊषा भार्गव पूर्व महिला कांग्रेस जिलाध्यक्ष, शिवपुरी

Comments

Popular posts from this blog

Antibiotic resistancerising in Helicobacter strains from Karnataka

जानिए कौन हैं शिवपुरी की नई कलेक्टर अनुग्रह पी | Shivpuri News

शिवपरी में पिछले 100 वर्षो से संचालित है रेडलाईट एरिया