पति-पत्नि का 51 साल का साथ, पत्नि की मौत के बाद पति ने भी 48 घंटे बाद त्यागे प्राण | Shivpuri News

शिवपुरी। हिन्दू धर्म के शास्त्रो में पत्नि को आधे शरीर की उपमा दी हैं,ओर जोडिया उपर से बनती है,किसी का बिछौह में प्राण भी चले जाते है। इन्ही सभी बातो को सिद्ध् करती हुई,शहर की पुरानी शिवपुरी से खबर आ रही है कि पति—पत्नि का 51 साल का साथ और पत्नि की मौत के बाद पति भी अपनी पत्नि के बिना रह नही पाए ओर पति ने भी मात्र 48 घंटे में प्राण अपने प्राण त्याग  दिए। साथ जीने-मरने के वचन को सिद्ध् कर दिया। 

नाथू राम शर्मा का परिवार पुरानी शिवपुरी में रहता है नाथू राम का विवाह करीब 51 साल पहले प्रेमाबाई से हुआ था इसके बाद दोनों हमेशा साथ रहे। अब उनके परिवार में 6-7 सदस्य हैं और सभी साथ रहते हैं। 24 जनवरी सुबह प्रेमा बाई का देहांत हो गया। परिजनों ने अंतिम संस्कार कर दिया। 

पत्नी की मौत से पहले तक 70 साल के नाथूराम पूरी तरह स्वस्थ थे। पत्नी के सदमें में आ गए। 51 साल पुराना साथ छूटने का दर्द वे सहन नहीं कर सकें और पत्नी की मौत के महज 48 घंटे बाद ही 26 जनवरी को शाम के समय उन्होंने भी दुनिया छोड़ दी। 

श्रद्धांजलि देते समय बोले आप गई में अकेला नहीं रह पाऊंगा 
बड़े बेटे राजू शर्मा ने बताया है कि मां प्रेमाबाई की मौत के बाद दूसरे दिन श्रद्धांजलि देते समय तस्वीर पर पुष्पा अर्पित करते समय पिता जी कर रहे थे कि आप गई में अब अकेला नहीं रह पाऊंगा। इसके बाद दूसरे दिन 26 जनवरी को पिता ने भी अपने प्राण त्याग दिए। इतना ही नहीं पिता जी मां से इतना प्यार करते थे कि सदैव मां का जेब में फोटो रखते थे, अंतिम संस्कार के समय जेब से मां का फोटो भी निकला था। 

Comments

Popular posts from this blog

Antibiotic resistancerising in Helicobacter strains from Karnataka

जानिए कौन हैं शिवपुरी की नई कलेक्टर अनुग्रह पी | Shivpuri News

शिवपरी में पिछले 100 वर्षो से संचालित है रेडलाईट एरिया