Ad Code

3 घंटे तक तड़पती रही महिला, एंबुलेंस में ही हुई डिलीवरी | Shivpuri News

शिवपुरी। इमरजेंसी सेवाओं के लिए शुरू की गई 108 एम्बुलेंस सेवा लोगों के काम नहीं आ रही है। लापरवाही की एक घटना शुक्रवार की शाम पोहरी क्षेत्र में देखने को मिली यहां पत्नी की पेट में दर्द  होने की शिकायत पर पति ने 108 एम्बुलेंस को फोन लगाकर बुलाया लेकिन फोन लगाने के तीन घंटे तक एम्बुलेंस वहां नहीं पहुंची और इसी दौरान महिला वहां तड़पती रही और जब एम्बुलेंस पहुंची तो आनन-फानन में महिला को एम्बुलेंस में बैठाया गया। 

लेकिन एम्बुलेंस के कुछ दूर चलने के बाद ही महिला ने एम्बुलेंस में ही एक बच्चे को जन्म दे दिया। इस घटना ने स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही उजागर की है और शीघ्र सुविधा उपलब्ध कराने वाले दावों की पोल खोल दी है। 

जानकारी के अनुसार बेताल गुर्जर की पत्नी अमरेश को शाम करीब 6 बजे पेट में दर्द हुआ। अमरेश का डिलेवरी टाईम चल रहा था। अचानक दर्द होने पर पति घबरा गया और उसने पत्नी के दर्द को देखकर 108 एम्बुलेंस को फोन पर सूचना दी। लेकिन सूचना के तीन घंटे बाद भी एम्बुलेंस नहीं आई। 

इस दौरान अमरेश दर्द के कारण घर पर ही तड़पती रही। बताया जाता है कि अमरेश और उसका पति बेताल ही घर पर थे और परिवार के  अन्य सदस्य वहां मौजूद नहीं थे। ऐसी स्थिति में अमरेश काफी घबराया हुआ था और वह अपनी पत्नी की सुरक्षा के लिए हर संभव प्रयास में जुटा था। 

देरी से मौके पर पहुंची एम्बुलेंस को देखकर बेताल ने राहत की सांस ली और जल्द से जल्द अमरेश को एम्बुलेंस में बैठाकर अस्पताल ले जाने के लिए निकला। लेकिन दर्द से करहाती अमरेश ने एम्बुलेंस के कुछ दूरी पर चलने के बाद ही एम्बुलेंस में ही बच्चे को जन्म दे दिया। इसके बाद जच्चा बच्चा को अस्पताल लाया गया। 

जहां डॉक्टर ने जच्चा बच्चे का परीक्षण किया और उन्हें स्वस्थ्य बताया। लेकिन इस घटना ने स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही अवश्य उजागर कर दी है। जिलेभर में लापरवाही की कई घटनाएं घटित हो चुकी हैं। लेकिन कोई कारवाई न होने के चलते ऐसी घटनाओं में आए दिन बढ़ोत्तरी हो रही है।