Ad Code

रेलवे स्टेशन सडक़ बनकर तैयार, 10 दिन बाद शहरवासी लाभ उठा सकेंगे | Shivpuri News

शिवपुरी। वायपास से लेकर रेलवे स्टेशन तक नई पुलिस लाईन क्षेत्र में बनाई जा रही सडक़ का कार्य पूर्ण हो चुका है और इस सडक़ को अब 10 दिन में शहरवासियों को खोल दिया जाएगा। जिससे वहां आवागमन शुरू होने से चहलपहल बढ़ेगी वहीं शहरवासियों को रेलवे स्टेशन तक पहुंचने के लिए 1 किमी की दूरी का कम सफर करना पड़ेगा। 

सडक़ के दोनों ओर सोल्डर भरने और नाली निर्माण के साथ ही सडक़ का उपयोग आमजन कर सकेंगे। यह दांवा सडक़ का निर्माण कर रही आरव्हीएम कम्पनी के कर्मचारियों द्वारा किया गया है। सडक़ के खुलने के बाद रेलवे स्टेशन पहुंचने के लिए दो मार्ग हो जाएंगे और इस मार्ग का फायदा शहर के उत्तरी भाग को मिलेगा।

 जबकि दक्षिणी भाग के लोगों को बस स्टेंड वाले रास्ते से रेलवे स्टेशन तक पहुंचने में सहूलियत होगी। इस रोड के शुरू होने से सर्किट हाउस रोड़ से वायपास तक सीधा पहुंचा जा सकेगा। 

ज्ञात हो कि वायपास से लेकर रेलवे स्टेशन के रास्ते पर सीवर खुदाई के बाद सडक़ निर्माण कर्ता कम्पनी और नगर पालिका के बीच भुगतान को लेकर विवाद होने के बाद काम रोक दिया गया था। इसके बाद से ही सडक़ का निर्माध अधर में लटक गया। लेकिन उच्च न्यायालय के हस्तक्षेप के बाद सडक़ निर्माण का रास्ता साफ हुआ और शिवम कंस्ट्रक्शन कम्पनी ने आरव्हीएम कम्पनी को सडक़ निर्माण करने के लिए अधिकृत किया। जिससे सडक़ बनने की उम्मीद जाग गई। 

लेकिन खनिज विभाग ने सडक़ निर्माण के दौरान खम्बे लगाकर निर्माण कार्य पर रोक लगा दी। लेकिन नपा और खनिज विभाग के बीच सुलह होने के साथ ही निर्माण कार्य प्रांरभ हुआ। उस समय ठेकेदार ने 7 दिन में सडक़ निर्माण कार्य पूरा होने की बात कही थी और 7 दिन में यह सडक़ अब बनकर भी तैयार हो गई है। 

सिर्फ सडक़ की सफाई और नाली व सोल्डर भरने का कार्य शेष रह गया है और ठेकेदार पवन धाकड़ का कहना है कि इन दोनों शेष बचे कार्य पूर्ण होने के साथ ही 10 में शहरवासियों के आवागमन के लिए यह रास्ता खोल  दिया जाएगा। 

अगर ऐसा हुआ तो शहर का उत्तरी भाग जिसमें विवेकानंद कॉलोनी, गांधी कॉलोनी, न्यू ब्लॉक, माधव चौक क्षेत्र, कमलागंज, श्रीराम कॉलोनी, सदर बाजार, गौतम बिहार कॉलोनी, बैंक कॉलोनी, बाबू क्र्वाटर रोड़, शांति नगर क्षेत्र, साईंस कॉलेज, फिजीकल, इंद्रा कॉलोनी, सिद्धेश्वर क्षेत्र सहित शहर के अन्य भाग को इसका लाभ मिलेगा। 

इन क्षेत्रों को लोगों को रेलवे स्टेशन पहुंचने के लिए इस रास्ते पर सफर करने से 1 किमी की दूरी का फेर नहीं लगाना पड़ेगा। अभी तक रेलवे स्टेशन तक पहुंचने के लिए राजेश्वरी रोड़ से पोहरी बस स्टेंड क्षेत्र से पहुंचना पड़ता था। जहां ट्रेफिक का दबाव अधिक होने के कारण लेागों को जाम का भी सामना करना पड़ता था। 

कई बार लम्बा जाम लगने के कारण यात्रियों की ट्रेन भी छूट जाती थी। जिससे आमजन काफी परेशन थे। लेकिन इस रोड़ के प्रारंभ होने के साथ ही लोगों की यह समस्या भी खत्म हो जाएगी और स्टेशन पर पहुंचने के लिए दो रास्ते होनेे से सुविधा भी बढ़ जाएगी।