Ad Code

पंप अटैडंर हडताल पर, ध्वस्त हुई नगर की पेयजल व्यवस्था, CMO मना नही सके | SHIVPURI NEWS

शिवपुरी। शहर के सभी 39 वार्डो का पेयजल सप्लाई का जिम्मा संभालने वाले पंप अटैंडर हडताल पर चले गए है। जिससे शहर की पेयजल सप्लाई की व्यवस्था बिगड गई हैं। वेतन वृद्घि की मांग को लेकर हड़ताल पर जाने का ऐलान इन कर्मचारियों ने बीते रोज देर शाम किया था। जब नपा सीएमओ सीपी राय से बातचीत बेनतीजा रही तो कर्मचारी हड़ताल पर चले गए जिसका नतीजा यह हुआ कि पहले ही दिन नगर में पेयजल वितरण संभव नहीं हो सका। 

कई इलाकों में जहां नलकूप से सप्लाई होती है वहां अलग अलग गली में पानी सप्लाई के लिए वाल्ब खोले जाते हैं हड़ताल के नतीजे में जब व्यवस्था जमींदोज हुई तो लोगों को पानी नहीं मिल सका। कर्मचारियों ने नगर पालिका परिसर में अनिशिचकालीन हड़ताल को लेकर डेरा जमा रखा है।

संविदा कर्मचारी यूनियन के नेताओं ने बताया कि वह लंबे समय से वेतन वृद्घि की मांग करते आ रहे हैं। कलेक्टर दर 7125 रूपए दिए जाने की शर्त पर रखा गया था जिसमें सफाईकर्मी, बगीचे के माली और जलप्रदाय कर्मचारी शामिल थे। इनमें से सफाईकर्मी और माली का वेतन तो समय समय पर कलेक्टर दर से बढता रहा लेकिन पंप अटेंडरों का वेतन नहीं बढाया गया है। ऐसे में वेतन बढाने की मांग को लेकर हम हड़ताल पर बैठे हैं।

यह बोले CMO

पंप ऑपरेटरों की हड़ताल जारी है और हम प्रयास कर रहे हैं कि इसका जल्द कुछ हल निकले शहर में जलसंकट से निपटने के लिए पूरे प्रयास किए जा रहे हैं।
सीपी राय, सीएमओ नपा शिवपुरी