Ad Code

गांव में एक साथ 5 लोगों की अर्थी सजी, छोटा पडा गांव का शमशान घाट | Pohri, Shivpuri News

पोहरी। जिले के पोहरी अनुविभाग का चकराना गांव जहां की टोटल जनसंख्या 1 हजार के आसपास हैं,21 दिसम्बर का दिन इस गांव के काला दिन के रूप में याद किया जाऐगा। छोटे से गांव में एक ही दिन,एक ही हादसे में 5 लोगो की अर्थी सजने के कारण गांव के आदमी तो छोडो पशु पछी भी करूण रूंदन कर रहे थे। बताया जा रहा है कि हादसे का मूल कारण ड्रायवर का नशे में होना,ड्रायवर ने चकराना में ट्रोला भर रहा था जब ही शराब पी थी,गांव के लोगो ने रात में जाने से मना किया था। लेकिन ड्रायवर नही मना। 

पोहरी से 6 किमी दूर शिवपुरी-श्योपुर रोड पर गुरुवार-शुक्रवार की रात अजवाइन से भरा ट्रॉला क्रमांक एमपी 09 एचएच 4626 पलटने से चकराना गांव के 5 किसानों की मौत हो गई और पांच घायल हो गए। एक साथ पांच लोगों की मौत के बाद चकराना गांव में शुक्रवार को श्मशान घाट पर एक साथ पांच चिताएं जलीं। मृतकों के परिवार के साथ-साथ पूरे गांव में शोक का माहौल है। 

अरुण रजक की मौत से घर का इकलौता चिराग ही बुझ गया है। बेटे की मौत से अरुण की मां और पिता का रो-रोकर बुरा हाल है। वहीं कल्याण जाटव की सरपंच पत्नी रेखा बाई गर्भवती हैं। पहले से सात साल की एक बेटी है। दुनिया में दूसरी संतान आने से पहले ही कल्याण की मौत हो गई। सरपंच रेखा बाई रो-रोकर बेसुध हो रही थीं। 

उनका पूरा परिवार शोक में डूबा है। मृतक सतीश प्रजापति भूमिहीन है। उसकी एक बहन की शादी हो चुकी है, दो की शादी होना बाकी है। वहीं प्रीतम की चार बेटियां और सात साल का एक बेटा है। अधिकतर मृतकाें की तीन से पांच बीघा जमीन है। अजवाइन के अच्छे दाम मिलने की उम्मीद में घर से 380 किमी दूर नीमच जाने के लिए निकले थे, लेकिन कुछ ही दूरी पर यह हादसा हो गया। 

जानकारी आ रही है कि एक साथ 5 लोगो का अंतिम संस्कार करने के लिए गांव का शमशाम घाट में चबूतरा कम पडा गया,इस कारण दो—दो अंतिम संस्कार अलग किए गए ओर 1 अंतिम संस्कार अलग किया गया। 

यह हुए है घायल 
हादसे में पीछे बैठे लाखन (20) पुत्र हल्के जाटव, कैलाश (35) पुत्र गोविंद धाकड़, बल्लू (33) पुत्र घनश्याम करण, क्लीनर केशव (18) पुत्र लल्लीराम धाकड़ व एक अन्य को पोहरी से जिला अस्पताल रैफर किया गया है। चेहरे पर चोट की वजह से क्लीनर केशव की हालत ज्यादा गंभीर है।