Ad Code

देव आव्हान के साथ गायत्री मंदिर पर 24 कुंडीय गायत्री महायज्ञ प्रारंभ | Shivpuri News

शिवपुरी। गायत्री तीर्थ हरिद्वार के मार्गदर्शन में जिला गायत्री परिवार ट्रस्ट  द्वारा गायत्री शक्तिपीठ शिवपुरी पर शक्ति संवर्धन 24 कुंडीय गायत्री महायज्ञ 33 कोटि देवताओं के आवाहन के साथ प्रारंभ हो गया।

शांतिकुंज से पधारे हुए विद्वान श्री बी.एन. तिवारी (टोली नायक) ने यज्ञ को विश्व का सर्व श्रेष्ठ कर्म बताते हुए कहा कि विश्व पर्यावरण सुधार , व्यक्तियों के शारीरिक एवं मानसिक स्वास्थ्य, व्यक्ति की संस्कारों के प्रति रुचि जागृत करने में यज्ञ की अहम भूमिका रहती है। यज्ञ से व्यक्ति एवं समाज में परस्पर स्नेह, भाईचारा एवं सहयोग की भावना में वृद्धि होती है। ईमानदार एवं कर्तव्य निष्ठ भावी पीढ़ी संस्कार वान हो इसके लिए चार पुंसवन संस्कार भी यज्ञशाला में संपन्न हुए।

यज्ञ आयोजकों द्वारा परम पूज्य  गुरुदेव का साहित्य आधी कीमत पर उपलब्ध कराया गया है। समाज के प्रत्येक घटक के विकास में उपयोगी साहित्य अधिक से अधिक मात्रा में क्रय करने हेतु निवेदन किया गया है।

राष्ट्र के उत्थान हेतु पर्यावरण शुद्धि हेतु एवं सेना के तीनों अंगों के सुरक्षा प्रहरियों एवं उनके परिवारों की मंगल कामना हेतु आहुतियां दी गई । तीन पारियों में सैंकड़ों यजमानों ने निशुल्क यज्ञ का लाभ लिया। सांयकाल को संगठन से संबंधित गोष्टी हुई जिसमें मिशन के कार्यों को और अधिक गतिशील बनाने हेतु विचार - विमर्श हुआ।

तत्पश्चात टोली नायक ने अपने उद्बोधन में स्वामी विवेकानंद, गुरु नानकदेव,स्वामी रामकृष्ण परमहंस आदि महापुरुषों के पदचिन्हों पर चलकर भारत को विश्व गुरु के पद पर प्रतिष्ठित करने की प्रेरणा दी। 24 तारीख को सुबह 8 बजे से पुनः यज्ञ प्रारंभ होगा।इसमें सभी संस्कार निःशुल्क सम्पन्न कराए जाएंगे।