Ad Code

2 साल बाद ही घर-घर पहुचेंगा सिंध का पानी, पढिए इस प्रोजेक्टर पूरी कहानी | Shivpuri News

शिवपुरी। शिवपुरी के प्सासे कंठो की प्यास बुझाने वाली योजना की अगर काम की गति देखा जाए तो इसने कछुआ की गति को भी रिर्काड तोड दिया है,कल नपा ओर अहमदाबार की कंपनी के बीच शहर में सिंध की लाईने डालने का अनुबंध हो गया,लेकिन अभी शहर को और 2 वर्ष इंतजार करना होगा, इस लाईन से पानी लेने के लिए।

अभी ड्राॅइंग नही आई भोपाल से जनवरी लास्ट तक आने की संभावना  
शहर में 207 किमी लंबी सप्लाई लाइन 15 करोड़ 32 लाख 66 हजार रुपए की लागत में बिछाई जाएगी। इस पाइप लाइन से ढाई लाख की आबादी को घर-घर में पानी मिल सकेगा। अनुबंध की शर्त के तहत ठेकेदार को 18 महीने में काम पूरा करना है। एग्रीमेंट के बाद अब डिजाइन ड्राॅइंग अनुमोदन के लिए भोपाल भेजी जाएगी, जिसमें 20 दिन का वक्त लेगा। जेएम बगासिया अहमदाबाद के प्रोजेक्ट इंचार्ज राकेश गिरी का कहना है कि नए साल में 15 जनवरी से पाइप लाइन बिछाने का काम शुरू करेंगे। 

मैन लाईन से घर-घर कनेक्शन करने के लिए अलग से होंगें टेंडर
शहर में अमृत योजना में सिंध के पानी लाईनो का 207 किमी का जाल बिछाना है। कंपनी ने जनवरी से इस काम की शुरूवात कर सकती है। और उसने काम पूरा करने के लिए 18 माह का समय मांगा है। उसके बाद इन मैन लाईनो से घर-घर का कनेक्शन का काम होना है।इसके लिए अलग से टेंडर जारी होगा।  अब देखना है कि उक्त कंपनी 18 महीने में सप्लाई लाइन बिछाने का काम कितने दिन में पूरा करती है। काम समय पर होने पर ही आमजन को सिंध का पानी मिल पाएगा। 

सिंध जलावर्धन की मुख्य सप्लाई लाइन से सीधे जुड़ना है 17 ओवरहेड टैंक 
सिंध जलावर्धन योजना में पहले की पाइप लाइन डूब क्षेत्र व खूबत घाटी तक कई बार फूटी है। इसलिए यहां 5.2 किमी पाइप लाइन बदलने पर 13.46 करोड़ रुपए अतिरिक्त खर्च हो रहे हैं। इसके अलावा शहर में पानी की टंकियां जोड़ने के लिए 7 करोड़ की लागत से अलग काम जारी किया गया है। एमएस पाइप से ग्वालियर बायपास व पोहरी की तरफ काम अभी बंद है। 

अभी तक चीलौद, गांधी पार्क, नौळरीकलां, कलेक्टोरेट, ठकुरपुरा की पुरानी टंकी जाेड़ी जा सकी हैं। बता दें कि शहर में 12 नए ओवरहेड टैंक व 5 पुरानी टंकियां हैं। कुल 17 ओवरहेड टैंकों को सिंध की मुख्य सप्लाई लाइन से जोड़ा जाना है। 

खूबत घाटी तक लाइन बिछाना शुरू कर दिया है 
डूब क्षेत्र में नई लाइन बिछा दी है, जिसे बीच में दो दिन शटडाउन लेकर सप्लाई चालू कर देंगे। खूबत घाटी तक लाइन बिछाने का काम शुरू हो गया है। एमएस पाइप आना शुरू हो गए हैं। ग्वालियर बायपास से फिजीकल व पोहरी चौराहे की तरफ लाइन बिछाकर टंकियों को जोड़ने का काम चालू करेंगे। टंकियों को भी जल्द जोड़ देंगे। 
महेश मिश्रा, प्रोजेक्ट इंचार्ज, ओम कंस्ट्रक्शन, टीकमगढ़