Ad Code

निर्वाचन के लिए बिजली कंपनी की गाडियां जब्त, बेज्जईती हुई तो याद आई डूयूटी, काटी लाईट | Shivpuri News

शिवपुरी। विधानसभा चुनाव का मतदान का दिन करीब आता जा रहा है। निर्वाचन के कार्य के लिए वाहनो का अधिग्रहण जारी है। वाहानो के अधिग्रहण में निर्वाचन कार्य में लगे कर्मचारियो ने बिजली विभाग में लगी प्राईवेट कंपनियो को धर लिया। जब बिजली विभाग ने अपनी गाडिया वापस मांगी तो उन्है गाडिया नही मिली। इसके बाद बिजली कंपनी को अपनी डूयूटी याद आई उसने निर्वाचन कार्य के लिए बनाए गए टैंटो की लाईट काट दी। 
 
कलेकटर जब फिजीकल ग्राउंड में निरीक्षण के लिए पहुंची तो टेंट में लाईट नहीं जलने के बारे में पूछा। कलेक्टर के हस्तक्षेप के बाद बिजली कंपनी के अधिकारियों ने तार जुड़वा दिए। इसके लिए टेम्परेरी कनेक्शन लेने की बात कही है। 

बताया जा रहा है कि बिजली कंपनी के एई जेएम श्रीवास्तव का कहना है कि फिजीकल कॉलेज में टेंट लगाकर अवैध रूप से लाईट चालू कर ली। हमारी गाड़ी भी पकड़ी। ऐसी गाड़ियां हैं जिनके बिना बिजली व्यवस्था चालू नहीं कर सकते। मेरी गाड़ी पकड़ ली। मैं कैसे व्यवस्था देखूंगा। हमारी गाड़ी सबलगढ़ तक जाती है। यदि बिजली चली गई तो 15 मिनिट में हाहाकार मच जाएगा। पांडाल में हमारे साथ गुप्ता ने अभद्रता की। टेम्परेरी कनेक्शन नहीं होने की वजह से पांडाल की लाइट काट दी। 

हालांकि बाद में कलेक्टर पहुंची तो उन्होंने हमारे वरिष्ठ अधिकारियों से बातचीत की। उसके बाद लाईट चालू कर दी है। वहीं वाहनों की निगरानी में तैनात अनिल गुप्ता का कहना है कि दोपहर में आरटीओ ने गाड़ी पकड़कर भेजी थी। कंपनी के अधिकारी हमारे पास आए उन्होंने अपनी अन्य गाड़ियां भी शाम को लाकर हमारे यहां रख दीं और पांडाल का कनेक्शन काट दिया। 

अधिकारियों से बातचीत के बाद कनेक्शन जोड़ा। वहीं वरिष्ठ अधिकारियों का कहना है कि चुनाव ड्यूटी के लिए 141 अधिकारी व कर्मचारी उपलब्ध कराए हैं। साथ ही 13 गाड़ियां भी सेक्टर मजिस्ट्रेट को दी हैं। ऑफिसों में भी बहुत कम स्टाफ रह गया है।