गीता पब्लिक स्कूल के छात्रो ने बनाई दुनिया की सबसे बड़ी हॉकी, तोड़ा पाकिस्तान का रिकॉर्ड | SHIVPURI NEWS

शिवपुरी। देश का राष्ट्रीय खेल हॉकी के विश्व कप की मेजवानी इस बार भारत ही कर रहा है और कल 28 नवंबर से उडीसा के भुवनेश्वर से प्रारंभ हो रहा है।इस देश में हॉकी को लोकप्रियता की चरम पर पहुचाने और भारत को इस विश्वकप में शुभकामनाए देते हुए शहर के गीता पब्लिक स्कूल ने विश्व की सबसे बडी मानव हॉकी का निर्माण किया।

हॉकी और बॉल की शानदार फॉरमेशन को बनाने मैं विद्यालय के 2000 विद्यार्थियों ने भाग लिया इससे पूर्व में पाकिस्तान के एक स्कूल में 1000 विद्यार्थियों की हॉकी बनाई थी उस रिकॉर्ड को तोड़ते हुए गीता पब्लिक स्कूल के 2000 विद्यार्थियों ने अत्यंत ही आकर्षक हॉकी बॉल की आकृति बनाई इस बात की भी संभावना है कि इसे गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड बुक में जगह मिल सकती हैं।

इस हॉकी बाल को बनाने के लिए 2 हजार छात्रो ने भाग लिया, हॉकी की लंबाई60 फीट, हॉकी की चौड़ाई 60 फीट, बॉल का साइज 20*20 फीट ,विद्यार्थियों का समय 45 मिनट, ड्रॉइंग का समय 3 घंटे लगा। स्कूल के प्रबंधक पवन कुमार शर्मा ने बताया कि हॉकी हमारा राष्ट्रीय खेल होने के साथ-साथ हॉकी वर्ल्ड कप 2018 का आयोजक देश भी है इस अवसर को यादगार बनाने के लिए पूरी दुनिया में हमारे विद्यार्थियों के हॉकी के प्रति उत्साह ब खेल भावना को मजबूत करने के लिए यह आयोजन किया गया।

गीता पब्लिक स्कूल हमारे शहर शिवपुरी का ऐसा स्कूल है जिसने हिंदुस्तान ही नहीं पूरे विश्व में शिवपुरी के नाम को रोशन किया है अच्छी पढ़ाई और अनुशासन के लिए जाने जाने वाले गीता पब्लिक स्कूल के विद्यार्थी जहां रोबोटिक्स ,एडवेंचर ,क्रिएटिविटी के साथ-साथ सभी तरह की आर्ट, कल्चरल एक्टिविटी और स्पोर्ट्स में भी बढ़-चढ़कर भाग ले रहे हैं। 

इससे पूर्व भी गीता पब्लिक स्कूल दुनिया का सबसे बड़ा क्रिकेट बैट व बाल फुटबॉल की आकृति बना चुका है जिसमें से फुटबॉल के आयोजन पर फीफा प्रेसिडेंट गिआनी इनफेंटिनो के द्वारा विद्यालय को बधाई पत्र भी दिया गया था। आयोजन के समय विद्यालय प्रबंधन कमिटी की तरफ से बृजेश कुमार शर्मा, गिर्राज शर्मा के साथ समस्त विद्यालय स्टाफ उपस्थिति था।
Share on Google Plus

Legal Notice

Legal Notice: This is a Copyright Act protected news / article. Copying it without permission will be processed under the Copyright Act..

0 comments:

Loading...
-----------

analytics