पुलिस की गुण्डागर्दी : जुआ पकड़ने गई टीम ने युवक में मारी लात, हाथ पैर फ्रैक्चर, जुआरीयों से नहीं मिले पैसे | Shivpuri News - Shivpuri Samachar | No 1 News Site for Shivpuri News in Hindi (शिवपुरी समाचार)

Post Top Ad

Your Ad Spot

11/13/2018

पुलिस की गुण्डागर्दी : जुआ पकड़ने गई टीम ने युवक में मारी लात, हाथ पैर फ्रैक्चर, जुआरीयों से नहीं मिले पैसे | Shivpuri News

शिवपुरी। खबर शहर के फिजीकल थाना क्षेत्र से आ रही है। जहां बीते रोज जुआ पकडने गई पुलिस को देखकर जुआरी तो भाग गए पुलिस ने अन्नकूट खाने जा रहे लोगों को ही उठाकर आरोपी बना दिया। इतना ही नहीं एक जुआरी ने पुलिस पर मारपीट कर लात मारकर छत से गिराने का भी आरोप लगाया है। इस दौरान सबसे अहम बात यह सामने आई कि पुलिस ने जिन आरोपीयों को दबौचा है उनकी जेब से पुलिस को एक फूटी कोडी भी नहीं मिली। 

जानकारी के अनुसार फिजीकल पुलिस को सूचना मिली कि पटेल नगर में एक घर में जुए का फड संचालित किया जा रहा है। जिसपर फिजीकल पुलिस मौके पर पहुंची और जाकर देखा तो एक कमरे में जुआ संचालित हो रहा था। पुलिस को देखकर जुआरीयों में भगदड मच गर्इ्। एक आरोपी चंद्रप्रकाश सिंह तोमर पुलिस को देखकर मकान की छत पर चढ गया। चंद्रप्रकाश का आरोप है कि जैसे ही वह छत पर चढा दो पुलिस कर्मी आए और उसके साथ मारपीट करने लगे। 

इनते में भी पुलिस कर्मीयों का मन नहीं भरा तो उन्होंने चंद्रप्रकाश में लात मार दी। जिससे वह छत से नीचे गिर गया। पुलिस कर्मीयों ने नीचे गिरे चंद्रप्रकाश को देखना तक मुनासिब नहीं समझा और वाहर आ गए। यहां भी बडा अजीबो गरीब बाक्या सामने आया पुलिस ने सामने से अन्नकूट खाकर लौट रहे चार लोगों को भी हिरासत में ले लिया। 

जब चारों की तलाशी ली तो चारों की जेब खाली मिली। अब अगर वह जुआ खेल रहे थे तो फिर उनकी जेब में पैसे क्यों नहीं मिले। पुलिस ने इस जुआ के मामले में सात लोगों को आरोपी बनाकर सभी पर जुआ एक्ट की कार्यवाही की। 

इनका कहना है 
जुुआ मकान में नही पटेल पार्क में चल रहा था,जुए कि सूचना पर गई थी छत का कोई मामला नही है। पुलिस किसी में लात क्यो मारेंगी,यह आरोप पुलिस पर गलत है
अनीता मिश्रा थाना प्रभारी फिजीकल 

जुआ पटेल पार्क में नही चल रहा था पुलिस पता नही क्यो झूठ बोल कर पटेल पार्क को बदनाम कर रही हैं,पार्क में सीसीटीवी कैमरे लगे है बडी ही आसानी से कोई भी चैक कर सकता है।
अशोक अग्रवाल पटेल पार्क प्रबधंंक 

No comments:

Post Top Ad

Your Ad Spot