Ad Code

धसक रही है प्रहलाद भारती की जमीन, एक तरफा जा सकता है धाकड समाज | Pohri News

शिवपुरी। खबर पोहरी विधानसभा से आ रही है कि इस बार मंत्री बनने के लिए चुनाव लड रहे भाजपा के प्रत्याशी प्रहलाद भारती  के लिए एक दिल जला देने वाली खबर आ रही हैं,कि जिस 40 हजारी धाकड जाति पर बैठकर वे 2 बार विधानसभा पहुंचे वह जाति ही उनको धोखा देने की तैयारी कर रही है। बताया जा रहा है कि उनकी जाति में बाहरी और स्थानीय का मुददा उठ रहा है। 

बताया जा रहा है कि अब कांग्रेस और भाजपा दोनो दलो से एक ही जाति के उम्मीदवार मैदान में आने के बाद इस विधानसभा के बाहारी और स्थानीय का मुददे ने जोर पकड लिया है।
समाज का कहना है कि दोनो तरफा वोट गए तो दोनो ही समाजी भाई हार सकते है। और श्री गणेश भगवान  इस विधानसभा का साथी बन भोपाल की ओर रूख कर सकता है।

दो बार बाहरी को विधानसभा पहुंचाया है, इस बार स्थानीय को पहुंचाओ। ऐसे ही मुददो को लेकर होने वाले मंत्री जी का समाज गांव गांव में बैठके कर रहा है,और जैसा कि विदित है कि धाकड समाज मतो की संख्या इस विधानसभा में लगभग 40 हजार के आसपास है। 

पोहरी विधानसभा में धाकड जाति पिछले 2 बार से अजेय रही हैं। इस कारण ही भाजपा के द्धारा धाकड जाति के प्रहलाद भारती को घोषित करने के बाद कांग्रेस ने भी धाकड जाति के सुरेश राठखेडा को अपना प्रत्याशी बनाया है,लेकिन अब दोनो दलो की चाल उल्टी पडती दिख रही है। ऐसा होने के बाद समाज ने यह निष्कर्ष निकाला की समाज का वोट दोनो ओर बट गया तो धाकड समाज का वर्चस्व सकंट में आ सकता है। 

बताया जा रहा है कि धाकड समाज के वरिष्ठ और समाज में मान्य समाजिक बुर्जर्गो का कहना है कि  कैसे भी इस बार हमारा समाज भी अजेय रहे। 2 बार बहारी को जिता दिया इस बार स्थानीय को भी नियमानुसार देना चाहिए। अगर यह आंकडा समाज ने फिट कर लिया। त होने वाले मंत्री प्रहलाद भारती संकट में आ सकते है उनके मूल वोट बैंक ही सरक जाऐगा तो नेताजी की जमीन खिसक सकती है।