BSF के 50 जांबाज कर रहे हैं EVM मशीनों की सुरक्षा, दरवाजों पर SHIVPURI पुलिस तैनात

शिवपुरी। जिले की पांचों विधानसभाओ में शांति पूर्वक मददान सम्पनन हो गया। जिले में चुनाव लड रहे 75 प्रत्याशियो का भविष्य वोटिंग मशीनो में कैद हो गया। राजस्थान की वोटिंग 7 दिसम्बर को होनी है,उसके बाद 11 दिसंबर को मतगणना होनी है। 11 दिसबंर की सुबह 8 बजे से वोटिंग मशीन प्रत्याशियो का भविष्य दिखाना शुरू कर देंगी। जिले की 1528 मतदान केंद्रों की वोटिंग मशींनो को पीजी कॉलेज में बनाए गए स्ट्रांग रूम में सुरक्षित रख दिया गया हैं

खबर आ रही है कि स्ट्रांग रूम की सुरक्षा के लिए फोर्स भी बदल दिया गया है। पुलिस अधीक्षक के अनुसार बीएसएफ की नई कंपनी शिवपुरी बुलवाई गई है। ग्वालियर से आई आधी कंपनी स्ट्रांग रूम की दिनरात चौकसी करेगी। इस आधी कंपनी में 50 जवान शामिल हैं। जबकि आधी कंपनी के जवानों की ड्यूटी ग्वालियर लगी है। इसके अलावा पीजी कॉलेज शिवपुरी के तीनों गेटों पर लोकल फाेर्स के रूप में एसएएफ के 15 जवानों की ड्यूटी लगाई है। 

इसके अलावा अजाक थाना प्रभारी को स्ट्रांग रूम का प्रभारी बनाया गया है। इसी के साथ अन्य पुलिस अधिकारी भी समय-समय पर स्ट्रांग रूम की चैकिंग करते रहेंगे। वहीं जिले में आईं 12 कंपनियों में से 11 कंपनियाें को राजस्थान में विधानसभा चुनाव सम्पन्न कराने के लिए रवाना कर दिया है। यह जवान अलवर जिले में चुनाव ड्यूटी के लिए चले गए हैं। जबकि एक कंपनी तेलंगाना रवाना हुई है। साथ ही उत्तर प्रदेश व अन्य जिलाें से आए 1 हजार होमगार्ड जवानों को भी वापस लौटा दिया है। 


इनका कहना हैं
पीजी कॉलेज शिवपुरी में स्ट्रांग रूम बनाया है जहां सारी ईवीएम सुरक्षित रखवा दी गईं हैं। यहां ग्वालियर से बीएसएफ की आधी कंपनी आई है जो दिन-रात ड्यूटी देगी। स्ट्रांग रूम के अंदर और बाहर सीसीटीवी कैमरों से भी 24 घंटे की रिकार्डिंग जारी है। शिवपुरी आईं 12 कंपनियों में से 11 अलवर और एक तेलंगाना रवाना करवा दी है। राजेश कुमार हिंगणकर, एसपी 

Share on Google Plus

Legal Notice

Legal Notice: This is a Copyright Act protected news / article. Copying it without permission will be processed under the Copyright Act..

0 comments:

Loading...
-----------

analytics