कलेक्टर ने किया भाजपा की योजना का प्रचार, आप के प्रत्याशी ने जडी शिकायत | Shivpuri News

शिवुपरी। अभी तक आपने कर्मचारी या अधिकारी की आचार संहिता की शिकायत सुनी होंगी, लेकिन शिवपुरी में स्वयं निर्वाचन अधिकारी शिवपुरी कलेक्टर शिल्पा गुप्ता आचार संहिता के उल्घनन में घिर गई हैं। आप के प्रत्याशी पीयूष शर्मा ने भाजपा सरकार की एक योजना के प्रचार प्रसार को लेकर कलेक्टर शिवुपरी और एक संबधित अधिकारी की शिकायत निर्वाचन आयोग को की हैँ

पढिए पीयूष शर्मा की ओर से जारी प्रेस नोट यह की है शिकायत-
प्रति,
श्रीमान मुख्य निवार्चनअधिकारी
भारत निवार्चन आयोग
भोपाल मप्र
विषय: कलेक्टर श्रीमती शिल्पा गुप्ता एवं शिवपुरी में पांच वर्षों से पदस्थ महिला एवं बाल विकास विभाग के डीपीओ ओपी पांडे द्वारा भाजपा सरकार का प्रचार करने और शासकीय योजना का प्रचार करने की शिकायत पर तत्काल प्रभावी कार्यवाही व इन्हें हटाए जाने का निवेदन।

शिवपुरी जिले में महिला एवं बाल विकास विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी ओपी पांडे पिछले पांच वर्षों से शिवपुरी जिले में पदस्थ हैं और यह इस जिले में पदस्थ होकर अपने पद का दुरूपयोग करते हुए भाजपा का प्रचार कर रहे हैं और सरकारी योजनाओं का प्रचार प्रसार भी कर रहे हैं। इनके विरूद्ध निम्न शिकायतें हैं कृपया इन पर कार्रवाई कर इन्हें यहां से हटाया जाए। 

कलेक्टर शिवपुरी द्वारा स्वयं कार्यक्रम को संचालित कराया गया जबकि आदर्श चुनाव आचार संहिता का स्पस्ट उल्लंघन करते हुए श्री ओ.पी. पांडेय पत्रिका समाचार पत्र में बयान हमारे आंगनवाड़ी केंद्रों में यदि कोई जानकारी लेने आएगा तो हम पोस्ट आफिस से संबंधित कर्मचारी को सूचना देकर बुलवा लेंगे और योजना के बारे में जानकारी दिलवाएंगे, ऐसा कर प्रभारी महिला बाल विकास अधिकारी शिवपुरी का 1000 से ज्यादा आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं और सहायिकाओं (जिले भर की) द्वारा योजना का सत्ताधारी पार्टी का प्रचार घर-घर किया जाकर शासकीय कर्मचारियों का दुरुपयोग है, जिस पर सख्ती से कार्यवाही कर तत्काल प्रभाव से हटाया जाए। 

वह बिन्दु जिन पर की जाए अविलंब कार्यवाही
1. यह कि महिला एवं बाल विकास विभाग के डीपीओ ओपी पांडे पिछले पांच साल से शिवपुरी जिले में ही पदस्थ हैं। वर्ष 2013 में ही यह इसी जिले में पदस्थ थे और इन्होंने विधानसभा का चुनाव यही कराया था। पांच साल से पदस्थ रहकर यह भाजपा का प्रचार कर रहे हैं। 

2. यह कि वर्ष 2014 में जब लोक सभा चुनाव हुए तो ओपी पांडे इसी जिले में पदस्थ रहे। लगातार इसी जिले में यह जमे हुए हैं। 

3. यह कि पूर्व में विधानसभाए लोकसभा व कोलारस उपचुनाव में पदस्थ रहकर इन्होंने शिवपुरी में भाजपा का प्रचार किया। वर्तमान विधानसभा चुनाव में भी यहां पर इन्हें मुख्य दायित्व व कार्य सौंपा गया है और यह चुनाव को प्रभावित कर रहे हैं। इन्हें तत्काल शिवपुरी जिले से मुक्त कर अन्यत्र भेजा जाए और इन पर कार्रवाई हो। 

4. यह कि 16 अक्टूबर 2018 को इन्होंने शिवपुरी के मानस भवन में भाजपा की सरकार वाली सुकन्या योजना का प्रचार प्रसार किया। यहां पर मानस भवन में मेला लगाया गया जिसमें महिला एवं बाल विकास विभाग के डीपीओ ओपी पांडे ने इस योजना से जुड़े हतग्राहियों को बुलाया और मेला कार्यक्रम पोस्ट ऑफिस के साथ संपन्न किया।

 मंच पर स्वयं कलेक्टर एवं ओपी पांडे विराजमान रहे। जिले में विधानसभा चुनाव की आचार संहिता लागू होने के बाद भी यह मेला व हितग्राही कार्यक्रम आयोजित किया गया। इसमें भाजपा की सरकार की योजना का प्रचार प्रसार इन अधिकारियों ने किया। इसके मुख्य सूत्रधारों  पर कार्रवाई की जाए। इस कार्यक्रम के स्थानीय समाचार पत्र पत्रिका में प्रकाशित समाचार इस शिकायत के साथ संलग्र हैं। कृपया तत्काल प्रभावी कार्रवाई करें।

Comments

Popular posts from this blog

Antibiotic resistancerising in Helicobacter strains from Karnataka

जानिए कौन हैं शिवपुरी की नई कलेक्टर अनुग्रह पी | Shivpuri News

शिवपरी में पिछले 100 वर्षो से संचालित है रेडलाईट एरिया