Ad Code

एडीएम का ट्रांसफर हो गया, मेरा वेतन कौन देगा | Shivpuri News

शिवपुरी। बेरोजगारी का यह आलम है कि शहर में अब प्रायवेट नौकरी करने वाले लोग भी अपनी वेतन के लिए चक्कर लगा रहे है। आज जो मामला सामने आया वह चौकाने वाला है। यहां एक महिला ने शिकायत की है कि वो एडीएम के यहां रसोईया का काम करती थी। एडीएम का ट्रांसफर हो गया और वो बिना वेतन दिए ही चले गए। 

बीते रोज जनसुनबाई में एक महिला ने आवेदन देते हुए कहा कि साहब, मैं एडीएम के यहां खाना बनाती थी। अब उनका तबादला हो गया, लेकिन एक महीने 13 दिन की पगार देकर नहीं, मेरी पगार दिलवाओ। इस पर अफसर ने एडीएम को कॉल किया लेकिन कॉल रिसीव नहीं हुआ। 

फतेहपुर निवासी उर्मिला ओझा ने जिला पंचायत सीईओ राजेश जैन को सौंपे आवेदन में शिकायत दर्ज कराते हुए कहा कि वह तत्कालीन एडीएम डॉ अनुज रोहितगी के यहां खाना बनाने का काम करती थी हर महीने 4 हजार का वेतन उसके खाते में आ जाता था। पर 1 महीने और 13 दिन का वेतन वह देकर नहीं गए। उनका ट्रांसफर शिवपुरी से अशोकनगर हो गया। 

पूछा तो वह बोले कि खाते में आ जाएंगे। पर अब तक नहीं आए। अब मेरे पैसे कौन देगा। इस पर अधिकारियों ने उसका आवेदन तो रख लिया। पर जनसुनवाई से बाहर निकलकर महिला ने यह अवश्य कहा कि यदि उसकी सुनवाई नहीं हुई तो फिर वह सीएम शिवराज सिंह को फोन पर अपनी समस्या बताएगी और वह अपने पैसे लेकर रहेगी।