Ad Code

अमर प्रेम: पत्नि की मौत के बाद पति ने भी प्राण त्याग दिए | kolaras News

शिवपुरी। दांप​त्य जीवन में अटूट प्रेम की कहानियां अब कम ही सुनने को मिलतीं हैं। यहां एक दंपत्ति के बीच इस कदर प्रेम था कि दोनों एक दूसरे को कष्ट में नही देख पाए। पति की तबीयत खराब हुई। आईसीयू में पति को देखकर पत्नि को हार्टअटैक आ गया और मौत हो गई। 5 दिन बाद स्वस्थ हुए पति को जब इसका पता चला तो उन्होंने भी प्राण त्याग दिए। पति-पत्नि का एक ही स्थान पर अंतिम संस्कार किया गया। 

कोलारस के राठौर मोहल्ले में निवास करने वाले शिवनंदन राठौर उम्र 75 साल का एक माह पूर्व स्वास्थ्य खराब चल रहा था। उन्है बहेरिया के अस्पाताल उपचार हेतु भर्ती कराया गया, उनकी पत्नि पुख्खो बाई उम्र 65 साल रविवार को उन्हे देखने अस्पताल पहुंची। 

अस्पताल में अपने जीवन साथी को ऑक्सीजन लगी देख वो घबरा गईं। उन्होंने सीने में दर्द की शिकायत की। डॉक्टरों ने बताया कि यह हार्टअटैक है। इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई। जब 5 दिन बाद शिवनंदन राठौर की हालत में सुधार आया तो उन्होने अपनी पत्नि के बारे में पूछा। परिजनों ने पुख्खोबाई की मौत की सूचना दी वह भी सदमे में आ गए और उन्होने भी अपने जीवन साथी की याद में दम तोड दिया। 

शिवनंदन राठौर के परिजन बताते हैं कि माता-पिता कभी अकेले नहीं रहते थे। अक्सर एक साथ आते-जाते थे। मोहल्ले वालों का कहना है कि दोनों बहुत ही सरल स्वभाव के थे और कहते थे कि जिएंगे साथ मरेंगे भी साथ, लेकिन लोग यह बात नहीं मानते थे। अंत में संयोग यही हुआ कि जीए भी साथ और मरे भी साथ।