Ad Code

बलात्कार काण्ड ओमप्रकाश खटीक और उनके पुत्र का षडय़ंत्र: पूर्व विधायक | karera news

शिवपुरी। आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर भारतीय जनता पार्टी में टिकट की मची होड़ के बीच अब पार्टी के नेता एक दूसरे के खिलाफ उन्हें नीचा दिखाने के लिए षड्यंत्र भी रच रहे हैं। करैरा के पूर्व विधायक रमेश खटीक के पुत्र चेतन खटीक के खिलाफ ग्वालियर जिले के सिरोल थाने में दर्ज हुई एफआईआर के पीछे भी भारतीय जनता पार्टी के ही कुछ नेताओं का हाथ बताया जा रहा है। 

पूर्व विधायक रमेश खटीक ने सीधे तौर पर आरोप लगाए हैं कि इस षड्यंत्र के पीछे भाजपा के पूर्व विधायक ओमप्रकाश खटीक और उनके पुत्र राजकुमार का हाथ है और यह बात उन्होंने संगठन के वरिष्ठ नेताओं को भी बता दी है। आरोप प्रत्यारोप की राजनीति के बीच विधानसभा चुनाव से पहले एकाएक टिकट दावेदारों के बीच की यह लड़ाई पार्टी के लिए भी मुसीबत का सबब बन सकती है। कुल मिलाकर अब भाजपा के नेता ही भाजपा के लोगों को ही घेरने के लिए षड्यंत्र रच रहे हैं। करैरा का यह पूरा मामला इसी श्रेणी में देखा जा रहा है।

केवल मेरा टिकट कटवाना चाहते हैं कुछ लोग: रमेश खटीक
पूर्व विधायक रमेश खटीक का कहना है कि करैरा से वह भाजपा के टिकट दावेदार हैं और यह दावेदारी कुछ लोगों को हजम नहीं हो रही है। पूर्व विधायक रमेश खटीक ने कहा कि जिस लड़की ने उनके पुत्र पर आरोप लगाए हैं वह इस तरह के झूठे आरोप पूर्व में कई लोगों पर लगा चुकी है और उनसे राजीनामा भी कर चुकी है। बदरवास में भी एक युवक पर इस लड़की ने इसी तरह के आरोप लगाए थे और इसमें पूर्व विधायक ओमप्रकाश खटीक और उनके पुत्र राजकुमार खटीक ने इस केस में राजीनामा कराया था। 

पूर्व विधायक रमेश खटीक का कहना है कि उनके पुत्र पर जो बलात्कार के आरोप लगाए गए हैं उसके पीछे भाजपा के लोग शामिल है और करैरा से टिकट मांग रहे ओमप्रकाश खटीक और राजकुमार खटीक इस षड्यंत्र में शामिल हैं। उन्होंने पुलिस से पूरे षड्यंत्र का पर्दाफाश करते हुए इस मामले की निष्पक्ष जांच की मांग की है।

संगठन ने भी गंभीरता से लिया पूरा मामला 
भाजपा के पूर्व विधायक रमेश खटीक ने बताया कि उनके खिलाफ कुछ नेताओं द्वारा जो षड्यंत्र रचा गया है। इसकी शिकायत पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को की गई है और संगठन के लोगों तक पूरी बात पहुंचा दी गई है। सूत्रों ने बताया है कि भोपाल से भी संगठन ने रिपोर्ट अपने स्तर से तलब की है कि इसके पीछे कौन-कौन लोग शामिल हैं।

करैरा से चुनाव हार चुके हैं ओमप्रकाश खटीक
आरोपों के घेरे में आए पूर्व विधायक ओमप्रकाश खटीक वर्ष 2013 में भाजपा के टिकट पर करैरा से चुनाव हार चुके हैं। वर्ष 2013 में भाजपा ने विधायक रमेश खटीक की जगह ओमप्रकाश खटीक को अपना उम्मीदवार बनाया था। करैरा सीट पर रमेश खटीक का टिकट काटकर ओम प्रकाश को मौका दिया गया था लेकिन वह इस सीट पर चुनाव हार गए थे।

क्या कहते हैं पूर्व विधायक
करैरा से मैं टिकट दावेदार हूं और इसलिए कुछ लोग मेरा टिकट कटवाना चाहते हैं। मेरे खिलाफ षड्यंत्र रचा गया है। पूर्व विधायक ओमप्रकाश खटीक और जिला महामंत्री राजकुमार खटीक इस षड्यंत्र में शामिल हैं। पुलिस से मैंने पूरे मामले की निष्पक्ष जांच की मांग की है। साथ ही संगठन के लोगों को भी भोपाल से लेकर दिल्ली तक सारी बात बताई है।
रमेश खटीक पूर्व विधायक
करैरा

क्या कहते हैं जिलाध्यक्ष
रमेश खटीक जी ने मुझे यह बात बताई है कि उनके खिलाफ कुछ लोगों ने षड्यंत्र रचा है। फिलहाल संगठन भी पूरे मामले पर नजर रखे हुए हैं।
सुशील रघुवंशी
जिला अध्यक्ष भाजपा, शिवपुरी