Ad Code

पुलिस ने चोर पकड़ने CCTV कैमरे लगाए थे, चोर कैमरे ही चुरा ले गए

शिवपुरी। अब यह प्रमाणित हो गया है कि शिवपुरी के चोर पुलिस से भी तेज हैं। पुलिस रिकॉर्ड में केवल उतने ही चोर गिरफ्तार दर्ज हैं जिन्हे पीड़ितों ने पकड़कर पुलिस के हवाले किया। पुलिस के पास ऐसी कोई ट्रिक नहीं है जो चोरियों को रोक सके या चोरों को गिरफ्तार कर सके। पिछले दिनों पुलिस ने चोरों को पकड़ने के लिए 170 सीसीटीवी कैमरे लगाए थे। चोर कैमेरा ही चुरा ले गए। 

जैसा कि विदित है कि पुलिस शहर के चप्पे-चप्पे पर नजर रखने के लिए पूरे शहर में स्थानो को चिहिन्त कर 170 सीसीटीबी कैमरे लगाए थे, इन कैमरो को पुलिस की तीसरी आख कहा जा रहा था। वकायदा इन कैमरो को आपरेट करने और पूरे शहर में एक साथ नजर रखने के लिए पूरा एक कंट्रोल रूम बनाया था, इन कैमरों की मदद से पुलिस ने गाडियां ई चालान काटने का पुलिस ने काम शुरू कर दिया था। 

इन कैमरों को शुरूवात करते समय पुलिस अधीक्षक शिवपुरी ने दावा किया था कि अब इन कैमरो की मदद से शहर में घटित होने वाले अपराधो पर अंकुश लगा सकेी,लेकिन इसके उल्ट पुलिस का यह दावा चोरो ने पलट दिया। चोरो ने पुलिस के इस नहले पर दलला पटकते हुए मंगल और बुधवार की रात शहर के लुधावली पर लगे सीसीटीवी कैमरे चोरी हो गए। 

इधर सीसीटीवी कैमरा चोरी होने की घटना जैसे ही शहर में फैली तो लोगों का कहना है कि जब पुलिस अपने ही सीसीटीवी कैमरों की निगरानी नहीं कर पा रही है। चोर उन्हें चुराकर ले जा रहे हैं तो ऐसे में आमजन की सुरक्षा का कैसे ख्याल रखा जाएगा।