Ad Code

मडीखेड़ा ऑवरफ्लो, रात्रि में खुले चार गेट, नीचे अलर्ट, औसत बारिश से आगे निकला शिवपुरी जिला

शिवपुरी। बीते चार दिन से हो रही नोनस्टॉप बारिश ने जिले में पानी की कमी को पूरा कर दिया है। बारिश के चलते नदी नाले उफान पर है। जिले के लगभग सभी बांध और तालाब ऑवर फ्लो होकर वह रहे है। आज रात्रि में जिले के मडीखेड़ा डेम में आए पानी से डेम का जल स्तर रात्रि में बढ़ गया। जिसके चलते बांध के चार गेट खोलने पड़े। जिले की खनियांधाना तहसील में पिछले 48 घंटों में 194 मिमी से अधिक बारिश हो गई है। दो दिन में ही इतनी अधिक बारिश होने से जिले का औसत बारिश का कोटा पूरा हो गया है। खनियाधाना में कम बारिश की वजह से ही जिले का औसत कोटा पूरा नहीं हो पा रहा था। इधर, रन्नौद क्षेत्र के नदी-नाले उफान पर आ गए। जिससे कई गांवों में भी पानी भर गया। 

जबकि पुलिया व रपटों पर 8 से 15 फीट तक पानी आने से गांवों का मुख्य सडक़ मार्गों से संपर्क पूरी तरह टूट गया। रन्नौद-पिछोर रोड पर मार्ग दो फीट डूबने से आवागमन बंद हो गया। दोपहर बाद पानी कम होने से वाहन गुजर सके। महज दो ही दिन में उम्मीद से ज्यादा बारिश होने की वजह से जनजीवन प्रभावि तहो गया है। वहीं रन्नौद कस्बे में 75 साल की महिला बड़ी नदी में उफान की वजह से अपने खेत पर फंस गई। सूचना पर स्थानीय ग्रामीणों ने नाव मंगाई और महिला को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया। 

जानकारी के मुताबिक खनियाधाना तहसील में 31 अगस्त तक कुल 406 मिमी बारिश हुई थी। 1 सिंतबर को 59 मिमी और 2 सितंबर को 135 मिमी बारिश दर्ज की गई है। यानी 48 घंटे में कुल 194 मिमी बारिश दर्ज की गई है जो साढ़े सात इंच से ज्यादा है। 

खनियाधाना से लगे रन्नौद क्षेत्र के नदी नालों में उफान आ गया। वहीं शिवपुरी जिले की कुल औसत बारिश 816 मिमी में से रविवार की सुबह 8 बजे तक 805.7 मिमी औसत बारिश दर्ज हो चुकी थी। जबकि इसके बाद भी दिन भर बारिश होती रही। इस वजह से जिले की कुल औसत बारिश का कोटा पूरा हो चुका है। बारिश जारी रहने से जिले में बारिश का आंकड़ा औसत से भी अधिक पहुंचने लगा है। 

पचावली पुल के लेवल पर बह रही सिंध नदी, गोरा-टीला पर मार्ग बंद 

देहरदा-ईसागढ़ राज्य मार्ग पर सिंध नदी पचावली पुल के लेवल से बह रही है। जिससे आगे चलकर गोरा-टीला का रपटे पर काफी ऊपर से पानी बह रहा है। खोड़ मार्ग पूरी तरह से बंद हो गया है। वीरा गांव में गंगाराम ओझा की हालत बिगडऩे पर परिजन जिला अस्पताल शिवपुरी लेकर नहीं जा सके। 

टौरिया और गोदोंली बने टापू
जिले के बैराड़ थाना क्षेत्र में विधायक भारती के विकाशशील क्षेत्र ने पोल खोलकर रख दी है। पार्वती नदी उफान पर होने के चलते टौरिया और गोदोंली सहित लगभग 2 दर्जन गांव टापू बने हुए है। ग्राम गोदोंली और टोरियां में ग्रामीण बीमार है। परंतु नदी उफान पर होने के चलते ग्रामीण मरीजों को इलाज कराने नहीं ले जा पा रहे है। टौरिया निवासी सुनील राजौरिया ने बताया है कि इस समस्या को लेकर कई बार हमने विधायक प्रह्लाद भारती को अवगत कराया है। परंतु उन्होंने कोई बात नहीं सुनी।

बीते रोज भी हमने इस मामले को लेकर विधायक भारती को न्यौता देकर बुलाया। कि आप आ जाए और नदी में पानी अधिक होने से नदी से लौटकर जाए परंतु उन्होने आने से बारिश अधिक होने की बात कहकर इंकार कर दिया। वही ग्राम गोंदोली में कुछ दिनों से कुछ ग्रामीण बीमार है। परंतु वह इलाज नही करा पा रहे।