Ad Code

जिला अस्पताल में आधा सैकडा से ज्यादा डॉक्टर, फिर भी अस्पताल लावारिस

शिवपुरी। शिवपुरी अस्पताल में लगातार नए भवन बनते जा रहे हैं, कई सुविधाओ का ऐलान किया जा रहा हो, लेकिन फिर भी अस्पताल लावारिसो जैसे हालात हैं। एक आंकडे के अनुसार अभी जिला अस्पताल  में आधा सैकडा से अधिक डॉक्टर हैं,लेकिन वह अपने खैराती अस्पताल में केवल साईन मारने के लिए आते हैं, ओर काम शहर के प्राईवेट नर्सिंग हॉमो में करते हैं। 

अभी मौसमी बीमारी,जानलेवा डेंगू और मलेरिया ने शहर को अपनी गिरफ्त में चुका हैं तो दूसरी ओर जिले का अपना अस्पताल लावरिस हो गया हैं। ओपीडी में डॉक्टरों की कुर्सिया खाली हैं और दर्द से तडपते मरीज लंबी कतारो में हैं,जब मरीजो की इस लाईन में लगकर हिम्मत जबाब दे जाती हैं तो वे फर्श पर बैठकर अपनी बारी का इंतजार करते हैं। 

बताया जा रहा हैं कि जिला अस्पताल के अतिरिक्त मेडिकल कॉलेज के लिए भर्ती हुए लगभग आधा सैकडा डॉक्टरो की ड्यूटी भी अभी जिला अस्पताल में लगाई गई हैं, लेकिन उक्त डॉक्टर केवल रजिष्टर पर साईन करके चले जाते है ओर शहर प्राईवेट नर्सिग होमो में अपनी सेवाए दे रहे हैं। ऐसे में जिला अस्पताल में केवल नई बिल्डिंग हैं। ईलाज करने वाले डॉक्टर नही हैं। यह जिला प्रदेश के स्वास्थय मंत्री के प्रभार वाला जिला हैं लेकिन यहां प्रदेश मे सबसे ज्यादा हालत यहां खराब हैं।