चलती बस से कंडेक्टर का अपहरण, 3 थाने की पुलिस परेशान | kolaras

शिवपुरी। खबर जिले की कोलारस विधानसभा से आ रही हैं। यह खबर कोलारस के 3 थानों की पुलिस को परेशान करने वाली हैं। कल शाम को पंचावली ग्राम के पास से रघुवंशी बस के कंडेक्टर पूरन सैन का अपहरण चलती बस को रोककर बुलैरा में आए 5 बदमाशो ने कर लिया। 

पहले इसे पढे 
रघुवंशी बस के कंडेक्टर पूरन सिंह का अपहरण करने वाले बदमाश दोपहर को कोलारस के न्यायालय में पेशी पर आए थे। शाम को उक्त बदमाश अपनी पेशी करने के बाद देहरदा चौराहे पर खडी रघुवंशी बस के पास आकर रूके और इस बस के कंडेक्टर दीवान सिंह के विषय में पूछताछ करने लगे।

बताया जा रहा हैं कि उक्त कंडेक्टर इसी बस में ही था, लेकिन बस का स्टाफ किसी घटना की आशंका को भाप गया ओर उसने मना कर दिया कि इस बस में कंडेक्टर दिवान सिंह नही है। बदमाशों ने कहा कि वह रघुवंशी बस में कंडेक्टरी करता हैं, तो ड्रारयवर ने कहा कि इस बस मालिक की 4 बसें इसी रोड पर चलती हैं। इसके बाद बदमाश वहां से खतौरा रोड की ओर चल दिए। ओर इस बस का स्टाफ इस घटनाक्रम की शिकायत करने लुकवासा चौकी पहुंच गया। पुलिस ने इस सूचना पर अपने पोईंट लगा दिए। 

अपहरणकर्ताओं ने दिवान सिंह के भ्रम में उठा लिया पूरन सेन को
चूंकि पुलिस के पोंईट बुलोरा क्रमांक एमपी 07 सी 1524 को ट्रेस करने के लिए लगा दिए थे। उधर उक्त बदमाश खतौरा रोड पर चलते हुए पंचावली पहुंच गए और उन्है खतौरा से आती हुई एक और रघुवंशी बस दिखी। बदमाशों ने इस बस को रोका और कहा कि इस बस का कंडेक्टर कहां हैं, बस के कंडेक्टर पूरन सेन ने कहा कि मैं ही हूॅ इस बस का कंडेक्टर तो बदमाशों ने अचानक पूरन सेन पर हमला करते हुए मारपीट शुरू कर दी और उसे अपनी बुलेरो में पटक कर ले गए।

घटना के बाद किसी ने अपहरण की जानकारी पुलिस को दी। चूंकि इस गाडी को ट्रेस करने के लिए पुलिस ने पोइंट पूर्व से ही लगा दिए थे लेकिन अपहरण की सूचना पर पुलिस और सक्रिय हो गई। बदमाशों ने अपहृत हुए पूरन सेन से पूछा कि तुम्हारा क्या नाम हैं, तो उसने अपना नाम बताया तो बदमाश समझ गए कि हमने गलत आदमी का अपहरण कर लिया। इसके बाद बदमाश इस पूरन सिंह को ऐजवारा रोड पर पटक गए। पूरन सिंह ने अपने अपहरण की शिकायत रन्नोद थाने में की हैं।

चौकाने वाला घटनाक्रम आया बहार 
इस पूरे मामले मेें एक ओर बात निकल कर आई हैं कि कोलारस न्यायालय में बदमाश पेशी करने आए थे उस मामले में कंडेक्टर दिवान सिंह आरोपी हैं और यह बदमाश फरियादी हैं। यह किसी पुराने मामले को लेकर दीवान सिंह का अपहरण करने आए थे और सबसे चौंकाने वाली बात यह हैं कि रघुवंशी ट्रेवल्स के मालिक शिव कुमार रघवंशी निवासी विनेगा थाना इंदार को बदमाश गोली मारने की धमकी देकर गए हैं, बताया गया हैं कि बस मालिक ने तत्कालिन एसपी को एक आवेदन सौपा था और कहा कि मुझे लगातार धमकियां मिल रही हैं, कभी भी मेरे उपर प्राण घातक हमला हो सकता हैं। कुल मिलाकर कल लुकवासा और रन्नौद थाने की पुलिस की किस्मत अच्छी थी कि बदमाशों ने चूक हो गई और बदमाश गलत आदमी का अपहरण किया और उसे सकुशल छोड गए। 
Share on Google Plus

Legal Notice

Legal Notice: This is a Copyright Act protected news / article. Copying it without permission will be processed under the Copyright Act..

0 comments:

Loading...
-----------

analytics