ads

Shivpuri Samachar

Bhopal Samachar

shivpurisamachar.com

ads

ड़ेगू का डंक: स्वास्थ्य विभाग ने जारी किया प्रेस नोट, टीम दिखाई नही दी | Shivpuri

शिवपुरी। इस दिनों शिवपुरी ड़ेगू के डंक से जकड़ी हुई है। ड़ेगू की चपेट में शहर के लगभग 17 लोग है। जो जिला चिकित्सालय सहित ग्वालियर में उपचार रत है। इस दौरान सबसे अहम बात यह सामने आई है कि इससे बचाब करने की उम्मीद लगाने बाले नगर पालिका के कर्मचारी भी ड़ेेगू ने अपनी चपेट में ले लिए है। जब पूरे शहर में ड़ेगू फैल गया तब स्वास्थ्य विभाग की ओर से प्रेस नोट रिलीज किया है। परंतु धरातल पर अभी भी स्थिति शून्य है। 

आज सीएमएचओ डॉक्टर अर्जुनलाल शर्मा की ओर से जारी प्रेस नोट में बताया गया है कि जिले में मौसमी बीमारियां एवं सेक्रमण पर प्रभावी नियंत्रण हेतु मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभागद्वारा आवश्यक कार्यवाही की जा रही है। इसके साथ ही यह कोशिश की जा रही है कि शहर के नागरिकों को इन रोगों के बचाव के विषय में जागरूक बनाकर इन्हेंं फैलने से रोका जाए। इस हेतु नगरपालिका के सहयोग से कचरा वाहनों के माध्यम से शहर में डेंगू से बचाव हेतु से बचाव की समझाईस दी जा रही है। स्वास्थ्य विभाग का दाबा है कि अभी तक सर्वे कार्य कर कुल 15210 घरों को चैक किया। जिसमें से 2206 घरों में लार्वा पाया गया है। जिसे नष्ट कर दिया गया है।

यहां पनपता है लार्वा
डेंगू का लार्वा साफ बिना ढक़े पानी में ही पनपता है। घर की पानी की टंकी कूलर,छत या आंगन में पड़े पुराने टायर में जमा पानी,छत पर फालतू प़े बर्तनों में जमा पानी ड़ेगू के लार्वा पनपने का मुख्य स्थान है। 8 दिन में लार्वा बन जाता है। मच्छर पूरे जीवन काल में 3 बार अंडे देने वाले ड़ेगू का मच्छर साफ पानी में एक बार में 250 से 300 अंडे देता है। 

कैसे करें बचने के उपाय
पानी के सभी बर्तनों जैसे टंकी,बाल्टीयां आदि को ढक़कर रखे। पानी को ढककर रखने से मच्छर अण्डे नहीं दे पाएगा,जिससे इनकी पैदावार रूक जाएगी। वर्षा कालीन समय में घरों के आसपास पानी एकत्रित हो जाता है। उसे एकत्रित न होने दें। लंबी बाहों के कपड़े पहने,मच्छर दानी का प्रयोग करें। पानी में किसी भी प्रकार के कीड़े लार्वा दिख रहे हो तो उन्हें छानकर स्वयं नष्ट कर दे। ध्यान रहे ड़ेगू का मच्छर दिन में काटता है। कूलर को एक हफ्ते में अवश्य साफ करें। पानी में कीड़े दिखे पर किसी भी प्रकार का खाने का तेल,मिट्टी का तेल या जला हुआ ऑईल डालकर भी कीड़े नष्ट किए जा सकते है। संभव हो तो प्रतिदिन घर पर धुंआ करें। 
Share on Google Plus

About NEWS ROOM

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.