प्रशासन के सभी दावे फैल, शहर जानलेवा डेंगू की गिरफ्त में, बोल रहे है आंकडे

शिवपुरी। शिवपुरी शहर को जानलेवा डेंगू बुखार ने अपनी गिरफ्त में ले लिया हैं। सभी सरकारे दावे धरे-धरे रह गए। भारत में सिर्फ मच्छरो से लडऩे का एक पूरा विभाग बनाया है मलेरिया विभाग इतनी सारी सरकारी योजनाओ के बीच इस विभाग का काम सिर्फ मच्छरो से लडऩे का है, और शासन ने इस विभाग की मदद के लिए स्वास्थय विभाग,और नगर पालिका को भी मदद के लिए दे रखा हैं। फिर भी शहर में ड़ेगू ने अपनी जगह बना ली हैं। 

डिपार्टमेंट ऑफ माइक्रोबायोलॉजी गजराराजा मेडीकल कॉलेज ग्वालियर की डेंगू की रिपोर्ट में अब तक 64 में से 31 मरीजों को डेंगू पॉजिटिव निकला है। शहर में दो दिन के भीतर 14 मरीजों को डेंगू की पुष्टि हुई है। दवा छिडक़ाव और लार्वा विनष्टीकरण के दावे औंधे मुंह गिरे हैं और शहर की पॉश कॉलोनी से लेकर सामान्य इलाके किस कदर डेंगू की चपेट में आ चुके हैं, यह खुलासा आंकडों से हो रहा है।

शहर का कोई भी इलाका ऐसा नहीं हैए जिसमें डेंगू का मरीज मौजूद न हो। शहर में हालात का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि दो साल पहले कलेक्टर के बंगले सहित सर्किट हाउस की पानी की टंकी में भी डेंगू का लार्वा मिला था।

इन लोगो को लिया डेंगू ने अपनी जकड़ में
डिपार्टमेंट ऑफ माइक्रोबायोलॉजी गजराराजा मेडिकल कॉलेज की डेंगू की रिपोर्ट 29 अगस्त को जारी की गई हैए जिसमें निम्नलिखित मरीजों को डेंगू पॉजिटिव पाया गया है। यह 27 और 28 अगस्त की जांच रिपोर्ट है, जिसमें 14 मरीज शिवपुरी के हैं।

मंगल उम्र 20 साल पुत्र बाईलाल कुशवाह, अमानपुर कोलारस शिवपुरी, संध्या (23) पत्नी हरिओम खंगार, रामबाग कॉलोनी शिवपुरी, रजनी (18) पुत्री डूमाराम रामबाग कॉलोनी शिवपुरी, पूजा पुत्री मोतीलाल खंगार, रामबाग कॉलोनी शिवपुरी, शकुन (40) पत्नी राजेन्द्र शर्मा, बीज गोदाम के पीछे मनियर शिवपुरी, सोनम (26) पुत्री घनश्याम ओझा, शक्तिपुरम खुडा शिवपुरी,अनुष्का (7) पुत्री महेन्द्र धाकड, श्रीराम कॉलोनी शिवपुरी, सुशांय (13) पुत्र महेश अग्रवाल, कृष्णपुरम कॉलोनी शिवपुरी,राहुल (16) पुत्र कामताप्रसाद धाकड, ग्वालियर वायपास शिवपुरी, रचना (24) पत्नी गजेन्द्रसिंह, ठेह सुहारा शिवपुरी,नीरज (16) पुत्र दामोदरसिंह, नवग्रह मंदिर के पास शिवपुरी अंकेश (10) पुत्र कल्याणए सिंघारई शिवपुरी,स्वदेश (21) पुत्र अतरसिंह निवासी गूगरीपुरा शिवपुरी, और बबलेश (25) पुत्र संतोषसिंह यादव, पहाडी तहसील कोलारस को ड़ेगू पॉजिटिव पाया गया हैं। 

16585 घरों में किया सर्वे, 2305 घरों में मिला लार्वा
मलेरिया विभाग द्वारा शहर में 16585 घरों में डेंगू का सर्वे किया था। 2305 घरों में डेंगू का लार्वा पाया गया। इसे विनिष्टीकरण की कार्रवाई की गई, लेकिन बावजूद इसके अभी भी कई घरों में डेंगू का लार्वा पनप रहा है।

स्टाफ की लड़ाई लड़ रहा विभाग 
जिला मलेरिया प्रभारी अधिकारी लालजू शाक्य का कहना है कि स्टाफ की कमी है। नपा ने पिछले साल 40 व्यक्तियों का स्टाफ दिया था एलेकिन इस बार 10 व्यक्ति दिएए वह भी 5 दिन बाद वापस बुला लिए। हमने जिले की 20 लोगों की टीम शहर बुलाई। 10 लोकल स्टाफ के साथ 30 लोगों ने सर्वे किया। स्टाफ की कमी खल रही है। उनका यह भी तर्क है कि तीसरे साल में डेंगू उछाल लेता है। इसलिए मरीज सामने आए हैं, लेकिन पिछले सालों की तुलना में 75 प्रतिशत कमी आई है।

Comments

Popular posts from this blog

Antibiotic resistancerising in Helicobacter strains from Karnataka

जानिए कौन हैं शिवपुरी की नई कलेक्टर अनुग्रह पी | Shivpuri News

शिवपरी में पिछले 100 वर्षो से संचालित है रेडलाईट एरिया