पहले कार से मारी टक्कर, फिर छात्रा का अपहरण का प्रयास

शिवपुरी। सुभाषपुरा थानातंर्गत ग्राम इंदरगढ में बाईक पर सवार भाई-बहन को कार से टक्कर मार कर घायल करने के बाद गांव के 5 युवको ने अपहरण करने का प्रयास किया। लेकिन युवती के चीखने के कारण अपहरणकर्ता की कार के पीछे हाईवे पर अन्य गाडिय़ा उसके पीछे लगने के कारण अपहरणकर्ता अपनी कार छोड कर भाग गए हांलाकि पुलिस इस मामले को गंभीरता से न लेते हुए सिर्फ एक्सीडेंट मान रही हैं। 

घटना में घायल हुर्ए छात्रा सुरभि उम्र 23 साल पुत्री परमाल सिंह धाकड़ के अनुसार वह अपने भाई देवेन्द्र सिंह धाकड उम्र 25 साल के साथ अपने खेत पर देवताओ की पुआ चढ़ाने के लिए जा रही थी। तभी रास्ते में सामने से उसके ही गांव की आ रही एक कार ने टक्कर मार दी। 

हादसे में दोनो भाई-बहन घायल हो गए। इसके बाद कार में से गांव के ही रहने वाले मुकेश पुत्र कमलु कुशवाह, छोटू पुत्र राजू कुशवाह, विक्रम, भूपसिंह पुत्र विमल कुशवाह और गांव की एक नर्स का बेटा दीपक उतरा और घायल हुई छात्रा सुरभि को पांचो ने कार में बेठा लिया और हाईवे पर कार को दौडाने लगे। 

छात्रा का कहना है कि उसने मोबाईल लगाने का प्रयास किया तो उन्होने मेरा मोबाईल छीन लिया और उसे शिवपुरी की ओर लाने लगे। सुरभि के अनुसार उसने चीखना शुरू कर दिया। मेरी चीख पुकार सुनकर एक वाहन इस कार का पीछा किया और गाराघाट के सामने अपनी गाड़ी इस कार के आगे लगा दी। इस पर आरोपियो ने अपनी कार को रोक दिया और भाग खडे हुए। छात्रा का कहना था कि फिर मैने अपना मोबाईल कार से निकला और अपने परिजनो को इस घटना की जानकारी दी। 

पीडि़ता के पिता परमाल सिंह धाकड का कहना है कि घटना के बाद उसकी पत्नी को सुभाषपुरा थाने से भगा दिया और कहां कि पहले कार का नंबर लेकर आओ फिर मामले की शिकायत दर्ज करेंगें। लेकिन खबर आ रही हैं कि पुलिस ने उस कार का जब्त कर लिया हैं। 

इनका कहना है
यह मामला साधारण एक्सीडेंट का लग रहा हैं, घायल अगर अपहरण की बात कह रही हैं तो हम उसका बयान लेकर जांच कर कार्रवाई करेंगें। 
सुरेन्द्र सिंह यादव, थाना प्रभारी सुभाषपुरा 

Comments

Popular posts from this blog

Antibiotic resistancerising in Helicobacter strains from Karnataka

जानिए कौन हैं शिवपुरी की नई कलेक्टर अनुग्रह पी | Shivpuri News

शिवपरी में पिछले 100 वर्षो से संचालित है रेडलाईट एरिया