6 मीटर अभी भी प्यासा है मड़ीखेड़ा डेम, पिछले 3 साल से नहीं खुले गेट

शिवपुरी। इस बार शिवपुरी जिले से पानी का स्टे खुल गया हैं। जिले में हो रही लगातार बारिश के चलते अटल सागर मड़ीखेड़ा डेम का लगातार जल स्तर बड रहा हैं। ताजा आकंड़े के अनुसार अभी तक मड़ीखेड़ा डेम का जलस्तर 340 मीटर हो गया हैं। इस ड़ेम में  पानी के भराव की क्षमता 346.25 मीटर है। आने वाले समय में ऐसा ही बारिश का क्रम बना रहा तो यह बांध इस साल पूरा भर सकता है। लेकिन अभी 6 मीटर अभी भी प्यास है उक्त ड़ेम। वहीं बांध के केचमेंट एरिया विदिशा, गुना व अशोकनगर इलाके में लगातार बारिश होने से शिवपुरी जिले के अमोला के पास सिंध नदी में पानी बढ़ा है और अमोला पर जो पुराना पुल है वह डूबने की स्थिति में है। यहां पर पुल से लेबल पानी सिंध नदी में बह रहा है। 

हालांकि यह पुल डूब क्षेत्र में ही आता है और यहां पर झांसी फोरलेन पर नया ऊंचा पुल बनने से यातायात में कोई दिक्कत नहीं आती है। पिछले साल कम बारिश होने से अमोला में सिंध नदी पूरी तरह से सूखी थी और नदी में पानी काफी कम था लेकिन इस साल अच्छी बारिश के बाद यहां पर सिंध नदी में पानी बढ़ गया है। 

शहर में बारिश के चलते चांदपाटा ऑवर फ्लों हो गया है। जिसके चलते कल चांदपाटा के गेंट खोलने पड़े। इसके अलावा शहर में पानी सप्लाई का प्रमुख स्त्रोत सांख्य सागर झील में भी पानी का लेबल बढ़ गया है। इस झील में पिछले कुछ दिनों पहले तक वाटर लेबल 1132 फीट ओवर फ्लू होने के बाद इसके गेट खोले गए थे जिससे चांदपाठा तालाब में भी पानी भर गया था। कुल मिलाकर इस बार सांख्यसागर झील और चांदपाठा तालाब में बीते तीन वर्षों की अपेक्षा अच्छा पानी आ गया है जो इस बार की गर्मी के सीजन के लिए पानी सप्लाई में मददगार रहेगा। 

Comments

Popular posts from this blog

Antibiotic resistancerising in Helicobacter strains from Karnataka

जानिए कौन हैं शिवपुरी की नई कलेक्टर अनुग्रह पी | Shivpuri News

शिवपरी में पिछले 100 वर्षो से संचालित है रेडलाईट एरिया