ads

Shivpuri Samachar

Bhopal Samachar

shivpurisamachar.com

ads

मंडी सचिव में WA GROUP में डाली अश्लील VIDEO, नहीं हुआ मामला दर्ज

शिवपुरी। जिले मे आए दिन सोशल मीडिय़ा पर अधिकारीयों द्वारा अश्लीलता परोसने के मामले प्रकाश में आ रहे है। इन अधिकारियों पर कार्यवाही नहीं होना इनके हौंसले बुलंद कर रही है। बीते रोज भी एक अधिकारी ने सोशल साईट वाट्सएप पर एक अश्लील वीडियो डाल दी। इस अश्लील वीडिय़ो के अपलोड के बाद अधिकारी ने ग्रुप छोड़ दिया। इस मामले में ग्रुप के एडमिन ने करैरा थाने में आवेदन भी दिया है परंतु उक्त आवेदन पर खबर लिखे जाने तक कोई कार्यवाही नही हुई है। जानकारी के अनुसार करैरा के एक वाट्सएप ग्रुप नवभारत करैरा गुल्फु खान नामक ग्रुप में नरवर व मगरौनी कृषि उपज मंडी सचिव के मोबाइल नंबर से गुरुवार को अश्लील वीडियो जारी हो गया। ग्रुप में वीडियो जारी होने के बाद ग्रुप एडमिन के बाद दूसरे लोगों के फोन आना शुरू हो गए। जिससे ग्रुप एडमिन ने मंडी सचिव के खिलाफ करैरा थाने में शिकायती आवेदन दिया है। वहीं ग्रुप में वीडियो जारी होने के बाद सचिव लेफ्ट हो गए। फिर ग्रुप एडमिशन को फोन लगाकर अपना मोबाइल चोरी हो जाने की बात कहने लगे।

बताया गया है कि मगरौनी व नरवर कृषि उपज मंडी में पदस्थ सचिव अनिल शर्मा के मोबाइल नंबर 9827329101 से गुरुवार की सुबह करीब 11 बजे अश्लील वीडियो संबंधित ग्रुप में जारी हो गया। ग्रुप में तत्कालीन एसपी से लेकर अलग अलग थानों के प्रभारी व दूसरे विभागों के अधिकारी जुड़े हैं। वीडियो को लेकर लोगों ने ग्रुप एडमिन राहत खान को फोन लगाकर आपत्ति दर्ज कराना शुरू कर दी। 

परेशान होकर राहत खान ने करैरा थाने में शिकायती आवेदन सौंपा है। वहीं राहत का कहना है कि उनके पास दोपहर 3 बजे मंडी सचिव का फोन आयो कि उनका मोबाइल चोरी हो गया है। इस बात की सूचना उन्होंने थाने में दे दी है। लेकिन सचिव ने संबंधित थाने का नाम नहीं बताया। सचिव ने सफाई देते हुए कहा कि चोरी हुए मोबाइल से किसी शख्श ने अश्लील वीडियो जारी किया है। 

इसके बाद सचिव का मोबाइल स्विच ऑफ हो गया। हालांकि नरवर थाना पुलिस द्वारा मंडी सचिव की तरफ से मोबाइल चोरी होने संबंधी कोई आवेदन न आने की बात कही।

पुलिस भी बन सकती है फरियादी
सोशल साईड के इस तरह के गलत उपयोग को लेकर सोशल साईडों पर पुलिस निगरानी बनाए हुए है। ऐसे मामलों में अगर कोई फरियादी शिकायत नहीं करता तो पुलिस विभाग की आईटी सेल इस मामले में फरियादी बनकर मामला दर्ज करा सकती है। परंतु अभी तक पुलिस द्वारा उक्त मामले में कोई भी कार्यवाही न करना समझ से परे है। 
Share on Google Plus

About Bhopal Samachar

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.