SP ने किया विभाग का एक्सरे: वर्षो से जमे थानेदारो के कमाऊपूत पुलिसकर्मिंयो को हटाया

शिवपुरी। नवागत पुलिस अधीक्षक राजेश हिंगणकर ने शिवपुरी पुलिस की सर्जरी शुरू कर दी है। उन्होने ट्रांसफर नही किए है बल्कि जिले के पुलिसकर्मियो के रिकार्ड खंगालना शुरू कर दिए है। इस सर्जरी में पाया कि एक एएसआई पिछले 20 वर्षो से कोतवाली में ही डटा है और उसका ट्रांसफर कागजो में होता रहा है। पुलिस अधीक्षक ने ऐसे 18 मामले संज्ञान में आए है जिनके ट्रांसफर कागजो में होते रहे है लेकिन वे एक चिहिन्नत जगह डटे हुए थे। जिन्हे क्राईम ट्रेस करने के लिए मौखिक आदेश पर रखा गया है।गौरतलब है कि कोतवाली से जिन चर्चित पुलिसकर्मियो को पूर्वएसपी ने हटाया था,वे उनका ट्रांसफर होते ही फिर शहर में आ गए। इनके अलावा विभिन्न पुलिस थानो पर भी कुछ पुलिसकर्मियो बरसों से मौखिक आदेश पर दूसरी जगह ड्यूटी कर रहे है। एसपी उस समय हतप्रभ रह गए जब शिवपुरी कोतवाली में एएसआई अरूण वर्मा पिछले लगभग 20 सालो से यहां पदस्थ है। एसपी ने ऐसे सभी 18 पुलिस कर्मियो को उनके मूल पदस्थी स्थलों पर तत्काल रिलीव हो जाने के निर्देश  दिए है अन्यथा सस्पेंड कर देने की कार्यवाही की जाऐगी। 

बताया जा रहा है ऐसे पुलिसकर्मी किसी न किसी अधिकारी के मौखिक आदेश से अपनी जगह डटे हुए थे, उन्हे उस क्षेत्र का जानकार या क्राईम ट्रेस करने में मदद करने के बहाने एक ही थाने में वर्षो से डटे हुए थे। इनके कागजो में ट्रांसफर होते रहते थे लेकिन फिजीकली नही,ऐसे पुलिस कर्मी वर्षो से जमे होने के कारण वसूली के लिए भी जाने जाते थे। इन्है थाने प्रभारी का कमाऊ पूत भी कहा जाता था। ऐसे पुलिस कर्मियो के कारण पुलिस की छबि भी खराब हो रही थी। 

यह है वे चेहरे 
कोतवाली में पदस्थ रहे एएसआई अरूण वर्मा को सीहोर, रामकुमार तोमर अजाक थाना, मदनमोहन पुलिस लाईन, फिजीकल थाने से सत्यवीर सिंह जादौन को करैरा, सुरेन्द्र पाराशर को खनियांधाना अंजीत तिवारी, शामिल है। 
Share on Google Plus

Legal Notice

Legal Notice: This is a Copyright Act protected news / article. Copying it without permission will be processed under the Copyright Act..

0 comments:

Loading...
-----------

analytics