SAF बैरक में घुसे मि.मगरमच्छ, आरक्षक पर हमला, घायल

शिवपुरी। देर रात्रि पोहरी बायपास पर स्थित एसएएफ बैरक में एक चार फीट का मगर घुस गया और उसने चीता स्कॉड में पदस्थ एक आरक्षक दीपक चौहान पर हमला उसे घायल कर दिया जिन्हें बमुश्किल कोतवाली टीआई विनय कुमार शर्मा और अन्य स्टाफ ने मगर के जवड़े से बाहर निकाला। बाद में वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची और आधे घंटे की मशक्कत के बाद मगर को काबू कर उसे पकडक़र चांदपाठा झील में छोड़ दिया।

पुलिस लाइन में स्थित एसएएफ बैरक के आसपास रात्रि करीब 11 बजे एक टैक्सी चालक ने 4 फीट लम्बे मगर को घूमते हुए देखा जिसकी सूचना तुरंत ही टैक्सी चालक ने डायल 100 को दी और जानकारी लगते ही डायल 100 मौके पर पहुंची। इसी दौरान चीता पुलिस को भी मौके पर बुला लिया जिसमें पदस्थ आरक्षक दीपक चौहान और अन्य पुलिसकर्मियों ने मगर को पकडऩे का प्रयास किया, लेकिन मगर बैरक में घुस गया जहां एसएएफ कर्मी सो रहे थे। 

मगर को देख वहां हलचल तेज हो गई और एसएएफ कर्मी बाहर निकल आए। इसी दौरान पुलिसकर्मियों ने मगर को पकडऩे के लिए डंडे और रस्सी का प्रयोग किया तभी मगर ने आरक्षक दीपक चौहान का हाथ अपने जवड़े में दबा लिया जिससे वह घायल हो गया। सूचना पाकर कोतवाली पुलिस भी मौके पर पहुंच गई और मगर को डंडे मारकर उसके जड़वे को खुलवाया तब जाकर आरक्षक दीपक मगर के चंगुल से छूट सका। 

इसके बाद दीपक को अस्पताल ले जाया गया जहां उसका उपचार हुआ। बाद में वन विभाग की टीम मौके पर पहुंच गई और मगर को पकडऩे में सफलता हासिल की। विदित हो कि बारिश के साथ ही शहर में मगरों का आगमन शुरू हो गया है। अभी दो दिन पूर्व भी एक मगर के बच्चे को डायल 100 कर्मियों ने पकड़ा था और कुछ दिन पूर्व ठण्डी सडक़ क्षेत्र में डॉ. एमडी गुप्ता के निवास के पास एक मगर देखा गया था, लेकिन वन टीम के आने से पहले ही मगर नाले में चला गया था जिस कारण वह पकड़ में नहीं आ पाया।
Share on Google Plus

Legal Notice

Legal Notice: This is a Copyright Act protected news / article. Copying it without permission will be processed under the Copyright Act..

0 comments:

Loading...
-----------

analytics