सिंध के लिए अब मीसांबदी नेता हरिहर शर्मा का खुली धूप में अनशन शुरू

शिवपुरी। पिछले 45 दिन से सिंध के पानी के लिए माधव चौक पर जल सत्याग्रह कर रही पब्लिक पार्लियांमेंट के सत्याग्रह के बाद भी प्रशासन के कान पर जूं तक नहीं रेंग रही। शहर में भीषण गर्मी में पानी के लिए मची त्राहि-त्राहि के बाद अब शहर की शांत पड़ी पब्लिक भी सामने आने लगी है। इसी के चलते आज चिलचिलाती गर्मी में 45 डिग्री पारे के लोग खुली धूप में कलेक्ट्रेट परिसर के बाहर अनशन पर बैठ गए है। अनशन पर बैठे लोगों ने बताया है कि शिवपुरी शहर में मड़ीखेड़ा डैम से शुद्ध पेयजल आपूर्ति के लिये 2009 में शुरू की गई की गई  सिंध जलावद्र्धन योजना जो दो वर्षों में दोशियान कंपनी द्वारा पूरी की जानी थी, किन्तु आज 9 साल बाद भी शिवपुरी शहर की ढाई लाख आबादी बूंद-बूद पानी के लिये तरस रही है, सिंध के पानी को शहर के घर-घर तक लाने की इस योजना का स्टेटस ये है कि शहर के बाहर तक पानी अब से करीब 5 महीने पहले लाये जाने को अपनी भारी सफलता मानते हुये, हमारे जनप्रतिनिधियों ने श्रेय की जंग लड़ते हुये बड़े-बड़े दावे करते हुये पोस्टर्स से शहर को पाट दिया। 

यही नहीं शहर में सिंध मैया के स्वागत में जलाभिषेक यात्रा तक निकाल डाली, किन्तु जैसे ही सप्लाई लाईन को चालू किया, डैम से शहर के बीच लाईन दर्जनों जगह फट पड़ी, तब से रोज ऐसा क्रम जारी है, शहर में इंफ्रास्टक्चर आज तक तैयार नहीं, भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ चुकी इस योजना की उच्चस्तरीय जांच की मांग और गुणवत्ता युक्त पाईपों के माध्यम से घर-घर तक जल्द पानी पहुंचाने की मांग सहित चार मांगों को लेकर पिछले 45 दिन से शहर की जनता स्थानीय माधवचौक चौराहे पर पब्लिक पार्लियामेंट संस्था के बैनर तले क्रमिक अनशन पर बैठे हैं, स्वत: बाजारबंद, रैली, ज्ञापन, घेराव, मुख्यमंत्री, प्रभारी मंत्री से मुलाकात सब हो चुका, डैम से शहर तक कास्ट आयरन की पानी की नई मैन लाईन की मांग पर टेंडर विज्ञापन हो गये हैं, किन्तु योजना में भ्रष्टाचार की मांग को लेकर प्रशासन, जनप्रतिनिधि व नेतागण गंभीर नहीं हैं। 

जिससे दुखित होकर भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ मीसाबंदी नेता हरिहर शर्मा अल्टीमेटम के बाद आज 45-46 डिग्री सेल्सियस की चिलचिलाती धूप में कलेक्टर कार्यालय (कलेक्ट्रेट शिवपुरी) के सामने एक दिवसीय अनशन पर बैठ गये हैं, उनके साथ मैं स्वयं अजय गौतम एडवोकेट, शहर के ब्रजेश अग्निहोत्री, प्रेमशंकर पाराशर, रिपुदमन सिंह भदौरिया भी 24 घण्टे के लिये खुली धूप में अनशन पर बैठ गये हैं।
Share on Google Plus

Legal Notice

Legal Notice: This is a Copyright Act protected news / article. Copying it without permission will be processed under the Copyright Act..

0 comments:

Loading...
-----------

analytics