सीएम हेल्पलाईन में प्राप्त शिकायतों के उचित जवाब ही पोर्टल पर अपलोड करें: कलेक्टर

शिवपुरी। शासन की मंशा अनुरूप हितग्राही मूलक योजनाओं का पात्र एवं जरूरतमंद व्यक्तियों को लाभ दिलाना ही हम सभी का कर्तव्य है। सीएम हेल्पलाईन अंतर्गत प्राप्त शिकायतों का निराकरण एल-4 स्तर पर समय-सीमा में किया जाए। सीएम हेल्पलाईन पोर्टल पर प्राप्त शिकायतों को जांचे बिना फोर्स क्लोज न करें। जांच उपरांत यदि हितग्राही पात्र नहीं पाया जाता है तो उचित जवाब ही पोर्टल पर अपलोड करें। उक्त आशय की निर्देश आज कलेक्टर श्रीमती शिल्पा गुप्ता द्वारा जिला अधिकारियों को दिए गए। 

जिलाधीश कार्यालय के सभाकक्ष में आयोजित समय-सीमा (टी.एल.) के पत्रों की समीक्षा बैठक में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री राजेश जैन, अपर कलेक्टर डॉ.अनुज कुमार रोहतगी, डिप्टी कलेक्टर श्री संजीव जैन सहित जिले के सभी जिला अधिकारी, अनुविभागीय दण्डाधिकारी आदि उपस्थित थे।

कलेक्टर श्रीमती शिल्पा गुप्ता ने बैठक में सीएम हेल्पलाइन, जनसुनवाई, माननीय मंत्रीगणों से प्राप्त होने वाले पत्रों की विभागवार निराकरण की समीक्षा करते हुए सभी अधिकारियों को निर्देश दिए कि प्राप्त होने वाले पत्रों का जवाब समय-सीमा में पहुंचे और की गई कार्यवाही से भी अवगत कराया जाए। 

उन्होंने कहा कि हितग्राही मूलक योजनाओं का पात्र एवं जरूरतमंद व्यक्तियों को लाभ दिलाए जाने हेतु प्रत्येक विधानसभा की एक-एक पंचायतों का चयन करें और इन पंचायतों में लाभांवित हितग्राहियों की भी संपूर्ण जानकारी एकत्रित करें। ब्लॉक स्तर पर ऐसे व्यक्तियों का भी चयन करें, जो मानसिक रूप से विक्लांग है। उन्होंने जनपद पंचायत के सीईओ को पंचायतों का निरीक्षण करने के निर्देश दिए। 

कलेक्टर श्रीमती गुप्ता ने कहा कि 10 जून 2018 को आयोजित होने वाले मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि योजना अंतर्गत कार्यक्रम की समीक्षा की और सभी तैयारियां पूर्ण करने के अधिकारियों को निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कार्यक्रम अंतर्गत किसान संगोष्ठि, गेहूं का बोनस वितरण एवं मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान का दोपहर 01 से 02 बजे तक लाइव टेलिकास्ट किया जाएगा। 

जनसुनवाई में बैठेगें जिला अधिकारी

कलेक्टर श्रीमती शिल्पा गुप्ता ने विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए कि जनसुनवाई में अपनी उपस्थित दर्ज कराए। जिससे उपस्थित आवेदक के आवेदन पत्र का निराकरण तुरंत किया जा सके अथवा समय-सीमा की शिकायत में संबंधित अधिकारी द्वारा आवेदक को निराकरण के संबंध में आस्वस्त किया जाए। उन्होंने कहा कि ऐसे अधिकारी जिनसे संबंधित प्रकरण जनसुनवाई में प्राप्त नहीं होते है, वे खुद न आते हुए अपने प्रतिनिधि को भेज सकते है। 

कलेक्ट्रेट कैम्पस से जनसुनवाई कक्ष तक व्हीलचेयर से अंदर आएगें नि:शक्तजन

कलेक्टर श्रीमती शिल्पा गुप्ता ने सामाजिक न्याय विभाग के अधिकारी को निर्देश दिए कि जनसुनवाई में आने वाले नि:शक्तजन आवेदकों को कलेक्ट्रेट कैम्पस से जनसुनवाई कक्ष तक व्हीलचेयर के माध्यम से लाया जाए। इस जनसुनवाई के उपरांत अगली जनसुनवाई से निर्देश का पालन किया जाए। 
Share on Google Plus

Legal Notice

Legal Notice: This is a Copyright Act protected news / article. Copying it without permission will be processed under the Copyright Act..

0 comments:

Loading...
-----------

analytics